जाति व्यवस्था बनी काल; प्रेमी प्रेमिका के शव पेड़ पर लटकते मिले, हत्या की आशंका

आगरा के ताजगंज में एक युवक और युवती के बीच कई वर्ष से प्रेम संबंध थे। साथ रहने में जाति की दीवार थी। समाज उनके इस रिश्ते को स्वीकार नहीं कर रहा था। शुक्रवार को सुबह दोनों के शव गांव के बाहर एक पेड़ पर बंधे फंदे से लटके मिले। पुलिस खुदकशी की बात कह रही है। हालांकि मौके से कोई खुदकशी के संबंधित नोट नहीं मिला है। स्वजन ने कोई शिकायत नहीं की है।

ताजगंज के गुतिला गांव निवासी 19 वर्षीय रीना और 21 वर्षीय गौरव के बीच स्कूल में पढ़ाई के दौरान से दोस्ती थी। दोनों के बीच की दोस्ती कुछ दिनों में ही प्रेम में बदल गई थी। दोनों की जाति अलग-अलग थीं। स्वजन को जानकारी हो गई तो उन्हाेंने इसका विरोध किया।

दोनों के मिलने पर पाबंदी लगा दी थी। शुक्रवार को सुबह छह बजे ग्रामीण शौच के लिए खेतों की ओर गए तो गांव के बाहर पेड़ से रीना और गौरव के शव फंदे से लटके मिले।पुलिस मौके पर पहुंच गई और दोनों के शव फंदे से नीचे उतारे गए। इंस्पेक्टर ताजगंज के अनुसार, साड़ी को पेड़ की डाली से बांधकर दोनों ओर के पल्लू से फंदे बनाए गए थे। इन्हीं फंदों को गले में डालकर युवक और युवती नीचे पेड़ से नीचे कूद गए।

इसके बाद दोनों फंदे से लटके रह गए। पुलिस को छानबीन में पता चला है कि युवक और युवती गुरुवार रात को एक से डेढ़ बजे के बीच अपने-अपने घरों से निकले थे। युवती अपने घर से साड़ी लाई थी। दोनों ने एक साथ फंदे से लटककर जान दे दी।अभी तक किसी के स्वजन ने इस संबंध में कोई तहरीर नहीं दी है।

error: Content is protected !!