बंगाल की महिला ने देश को दिखाया आईना, ऐडी चोटी का जोर, परन्तु किला नहीं तोड़ सकी भाजपा

1- केन्द्र सरकार ने ओवर कांन्फिडेंस में करवाये इलैक्शन देश की जनता से धोखा
2- कोरोना संकट में रैलियों का खर्च हाॅस्पिटल की तैयारी और ऑक्सीजन का भंडारण पर लगाते देश की जनता यह समय नहीं देखती

नेताजी सुभाष चन्द्र बोस द्वारा स्थापित ऑल इण्डिया फारबर्ड बलाॅक के सचिव व प्रदेश प्रवक्ता और हिमाचल प्रदेश भूतपूर्व सैनिक कल्याण एवं विकास समिति के अध्यक्ष कैप्टन बालक राम शर्मा रिटायर्ड ने पत्रकार वार्ता में कहा कि एक महिला ने देश व समाज को दिखाया आईना जैसे आपने सबने देख लिया कि वेस्ट बंगाल में ममता बनर्जी का किले को भेदने में भाजपा कामयाब नहीं हो गई वैसे तो हार जीत चलती रहती है परन्तु भाजपा के नेताओं ने ऐडी चोटी का जोर लगाया परन्तु हार का सामना देखना पड़ा जो बड़े अफ़सोस की बात है।

भाजपा को ओवर कांफिडेंस हो चुका था कि आज़ हमें कोई नहीं हरा सकता क्योंकि मोदी लैहर ने भाजपा को गलत् रास्ता दिखा दिया गया जबकि मजबूत केंद्र सरकार ने कोरोना महामारी के संकट में बहुत बड़ा रिस्क लिया था और ओवर कांफिडेंस में रह कर देश की जनता के साथ बहुत बड़ा खिलवाड़ किया गया जिसका नतिजा परिणाम सामने दिख रहा है आज़ जो ममता बनर्जी का किला भी नहीं भेद सके और कामयाब भी नहीं हुए यह सबक लेने की जरूरत है कि किसी भी तरह से कभी भी कोई भी घमंड में काम न करें जिससे न सता मिली और देश की जनता को इस कोरोना महामारी के संकट में और ज्यादा धकेल दिया जिससे आज़ लाखों लोग बहुत बुरी दशा में मर रहे हैं
इलैक्शन जरुरी नहीं थे छे महीने स्थगित कर दिये जाते तो क्या फ़र्क पड़ता देश की इस हालात के लिए केंद्र सरकार और चुनाव आयोग है जिन्होंने सत्ता हासिल करने के लिए इलैक्शनों की रैलियों पर करोडों रुपये लगा दिया यही पैसा अगर हाॅसपिटलों की तैयारी और ऑक्सीजन का भंडारण करते तो शायद जनता को ये दिन नहीं देखने पड़ते इसलिए लालच़ और सत्ता का नशा नहीं होना चाहिए आज़ पैसा भी खर्च सत्ता भी नहीं देश की जनता भी नाराज़ हो गई। एक महिला राजनीति के अखाड़े में बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी अपने भरोसे को लेकर कामयाब हो गई जो देश व समाज के एक आईना दिखा दिया।

error: Content is protected !!