बीजेपी को खुश करके मेरे हाथ सिर्फ 25-30 केस ही लगे हैं। काश मैं भी आपकी तरह समझदार होती- कंगना

बॉलीवुड एक्ट्रेस कंगना रनौत पिछले काफी महीनों से लगातार महाराष्ट्र सरकार पर निशाना साध रही हैं। सुशांत सिंह राजपूत की मौत के बाद से शुरू हुए ट्विटर वॉर के बाद से उनका टकराव राज्य सरकार के साथ समय-समय पर होता रहा है। अब महाराष्ट्र सरकार में सहयोगी कांग्रेस और एनसीपी ने कंगना पर पलटवार करते हुए बीजेपी पर गंभीर आरोप लगाए हैं। कांग्रेस-एनसीपी ने कहा है कि कंगना रनौत बीजेपी के निर्देशानुसार ही महाराष्ट्र विकास अघाड़ी सरकार के खिलाफ बोल रही हैं। उन्होंने कहा कि यह बीजेपी ने पाप किया है, जिसे धुला नहीं जा सकता, भले ही वह महाराष्ट्र की जनता से माफी ही क्यों न मांग ले।

शिवसेना नेता उर्मिला मातोंडकर पर कंगना रनौत के हमला बोलने के बाद सत्तारूढ़ दलों ने कहा कि बीजेपी के विश्वासघात पर महाराष्ट्र की जनता स्टैंड लेगी। कंगना ने उर्मिला मातोंडकर पर ऑफिस खरीदने को लेकर निशाना साधा था। उन्होंने ट्वीट करते हुए लिखा था, ”डियर उर्मिला जी, मैंने जो खुद की मेहनत से घर बनवाए, उसे भी कांग्रेस तोड़ रही है। सच में बीजेपी को खुश करके मेरे हाथ सिर्फ 25-30 केस ही लगे हैं। काश मैं भी आपकी तरह समझदार होती तो कांग्रेस को खुश करती। कितनी बेवकूफ हूं मैं, नहीं?”

कंगना रनौत अपने ट्वीट के जरिए से उर्मिला के उस ऑफिस का जिक्र कर रही थीं, जिसे उन्होंने शिवसेना में शामिल होने के कुछ समय बाद कमर्शियल इलाके में तीन करोड़ रुपये में खरीदा था। मातोंडकर ने भी पलटवार करते हुए कहा था कि उन्होंने यह संपत्ति अपने पैसे से खरीदी गई एक अन्य संपत्ति को बेचकर खरीदी है। इसके लिए उनके पास रिकॉर्ड्स भी हैं।

कांग्रेस के राज्य महासचिव और प्रवक्ता सचिन सावंत ने कहा कि यह स्थापित हो गया है कि महाराष्ट्र और मुंबई को बदनाम करने की साजिश के पीछे बीजेपी थी। रनौत ने खुद स्वीकार किया है कि वह बीजेपी को खुश करने की कोशिश कर रही थीं। यह साबित करता है कि मुंबई पुलिस और महाराष्ट्र को बदनाम करने के लिए बीजेपी साजिश (सुशांत सिंह राजपूत मामले की जांच के दौरान योजनाबद्ध) के पीछे थी। बीजेपी अपने पाप को धो भी नहीं सकती, भले ही वह महाराष्ट्र के लोगों से माफी ही क्यों न मांग ले। हम बीजेपी की निंदा करते हैं।

एनसीपी विधायक और पार्टी प्रमुख शरद पवार के पोते रोहित पवार ने भी बीजेपी पर जमकर निशाना साधा। ‘उन्होंने मराठी में किए अपने ट्वीट में कहा, ”हमें कंगना को उनके स्पष्ट बोलने के लिए बधाई देनी चाहिए कि वह बीजेपी को खुश करने के लिए महाराष्ट्र सरकार पर निशाना साध रही हैं। ऐसा करके उन्होंने बीजेपी का पर्दाफाश किया है। अब महाराष्ट्र के लोग बीजेपी द्वारा इस ‘विश्वासघात’ के बारे में फैसला करेंगे।”

Please Share this news:
error: Content is protected !!