Nude video: 10 साल की नाबालिग को डरा धमका कर सोशल मीडिया पर लिया अश्लील वीडियो, पुलिस ने किया गिरफ्तार

मुंबई: कोविड काल में तमाम विद्यार्थी मोबाइल से ओनलाइन पढ़ाई कर रहे हैं और इसी बीच कई विद्यार्थी ओनलाइन के कई एप्लिकेशन पर भी चैटिंग करते पाए जा रहे हैं. विद्योर्थियों के परिजनों को इस बारे में जानकारी ही नहीं होती.

ऐसा ही एक मामला मुंबई के जोगेश्वरी इलाक़े से सामने आया जहां पर एक 10 साल की लड़की की पहचान एक अज्ञात शख़्स के साथ स्नैपचैट नाम के चैटिंग ऐप पर दोस्ती हो गई. जिसके बाद लड़की उस शख़्स से बातचीत भी करने लगी.

बच्ची को अश्लील विडीओ भेजे

बच्ची के चैटिंग के बारे में परिवार वालों को कुछ भी पता नहीं था. क्राइम ब्रांच के डीसीपी दत्ता नलावड़े ने बताया की बच्ची की चैटिंग की जानकारी उसके परिजनों को नहीं थी और इसी दौरान उस शख़्स ने लड़की का मोबाइल नम्बर मिल गया और फिर उस शख़्स ने उस बच्ची को अश्लील विडीओज़ भेजे इसके बाद उस शख़्स ने बच्ची का मोबाइल नम्बर अपने एक दोस्त को दिया और फिर उसने भी उस बच्ची को अश्लील विडीओ भेजे.

नलावड़े ने बताया की इसके बाद उस बच्ची को दोनों शख़्स ने धमकी दी की वो लोग इसके मां और पिता की हत्या कर देंगे अगर वो इन लोगों को उसका खुद का अश्लील विडीओ नहीं भेजेगी. दोनो ही आरोपियों ने बच्ची को इतना डरा दिया था की वो डर के मारे इस बारे में अपने घर वालों को जानकारी नहीं दी और अपना विडीओ बनाकर उन लोगों को भेज दिया. इसके बाद किसी तरह से हिम्मत दिखाकर उस बच्ची ने इस बारे में जानकारी अपने परिजनो को दी.

कई धाराओं में आरोपियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज

इसके बाद बच्ची के परिजनों में इस बात की जानकारी पुलिस को दी, परिजनो की शिकायत के आधार पर पुलिस ने अज्ञात आरोपियों के ख़िलाफ़ आइपीसी की धारा 354(A), 354(C), 354(D), 506(2) और पोक्सो की धारा 12 और 14 और इंफ़ोरमेशन टेक्नोलोजी एक्ट की धारा 66 (e), 67 (b) के तहत मामला दर्ज किया.

मामला गम्भीर था इस वजह से क्राइम ब्रांच ने जांच शुरू की और टेक्नोलाजी का इस्तेमाल कर क्राइम ब्रांच की यूनिट 10 ने दोनों ही आरोपियों को मुंबई से सटे भिवंडी से गिरफ़्तार कर लिया. गिरफ़्तार दोनो आरोपियों के नाम सन्नी जनियानी और अजय म्हात्रे है, दोनो ही आरोपी फ़िलहाल पुलिस हिरासत में हैं पुलिस इस बात की जांच कर रही है की आरोपियों ने ऐसा क्यू किया और इन लोगों ने इस तरह कितने और बच्चों को अपना निशाना बनाया है.

पुलिस ने किया लोगों को आवाहन

नलावड़े ने लोगों से आवाहन किया है की लोगों ने अपने बच्चों की एक्टिविस्ट पर ध्यान देना चाहिए की वे क्या कर रहे हैं उनकी सर्च हिस्ट्री को देखते रहना चाहिए ताकि अगर बच्चा किसी ग़लत जगह जा रहे हैं तो उन्हें रोका जा सके.

error: Content is protected !!