हिमाचल का पीटीसी डरोह बना देश भर का बेहतर प्रशिक्षण स्थान

हिमाचल प्रदेश पुलिस प्रशिक्षण महाविद्यालय, डरोह (कांगड़ा) को प्रशिक्षण के क्षेत्र में देशभर में दूसरी बार प्रथम स्थान हासिल हुआ है।

गृह मंत्रालय, भारत सरकार द्वारा घोषित किए गए देशभर के प्रशिक्षण संस्थानों के प्रशिक्षण स्तर के मूल्यांकन परिणाम में वर्ष 2018-19 के लिए आरक्षी मूलभूत प्रशिक्षण प्रदान करने के लिए पीटीसी डरोह को देशभर में प्रथम घोषित किया गया है।

वहीं वर्ष 2017-18 के लिए अराजपत्रित अधिकारी ग्रेड-एक को प्रशिक्षण देने के लिए उत्तरी क्षेत्र में प्रथम घोषित किया गया है। गौर रहे कि इससे पूर्व भी वर्ष 2015-16 में भी इस संस्थान को आरक्षी मूलभूत प्रशिक्षण के लिए देशभर में अव्वल घोषित किया गया था।

पुलिस प्रशिक्षण महाविद्यालय, डरोह के प्रधानाचार्य डाॅ. अतुल फुलझेले (भा.पु.से.) ने इस सफलता का श्रेय प्रदेश पुलिस महानिदेशक तथा प्रशिक्षण केंद्र में कार्यरत सभी अधिकारियों, प्रशिक्षकों और सहायक प्रशिक्षकों को दिया है। उनहोंने कहा कि अपने समर्पण व कठिन परिश्रम से इस प्रशिक्षण संस्थान को राष्ट्रीय स्तर पर नई पहचान स्थापित करने में इन सभी की अहम भूमिका रही है। उन्होंने बताया कि यह संस्थान वर्ष 25 जुलाई, 1995 को अपने अस्तित्व में आया था। संस्थान इस वर्ष रजत जयंती मना रहा है तथा आने वाले समय में भी नए-नए आयाम स्थापित करके राष्ट्रीय व अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर अपनी पहचान बनाने में कामयाब रहेगा।

डाॅ. फुलझेले ने मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर और प्रदेश पुलिस महानिदेशक संजय कुंडू का धन्यवाद करते हुए बताया कि उनके निरन्तर सहयोग व मूलभूत ढांचे को और ज्यादा सुदृढ़ करने के लिए धन का प्रावधान इस आयाम को छूने में सार्थक सिद्ध हुआ है। उन्होंने बताया कि इस सफलता को हासिल करने के लिए इस संस्थान को गृह मंत्रालय, भारत सरकार द्वारा इनाम के रूप में ट्राॅफी और 22 लाख रुपए की राशि प्रदान की जाएगी।

Please Share this news:
error: Content is protected !!