Offensive Remarks: मोदी और शाह पर आपत्तिजनक टिप्पणी करना पड़ा भारी, पुलिस कांस्टेबल बर्खास्त

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह के खिलाफ इंटरनेट मीडिया पर आपत्तिजनक पोस्ट करना दिल्ली पुलिसकर्म को भारी पड़ गया। इसका पता चलने पर दिल्ली पुलिस मुख्यालय ने तत्काल उसे बर्खास्त करने का आदेश जारी कर दिया है। जिसे नौकरी से निकाला गया है, उसका नाम मनीष मीणा है।

पीएम पर की आपत्तिजनक टिप्पणी, सिपाही बर्खास्त

मिली जानकारी के मुताबिक, उत्तरी जिले के सब्जी मंडी थाने में तैनात सिपाही मनीष मीणा ने इंटरनेट मीडिया पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और गृह मंत्री अमित शाह के बारे में आपत्तिजनक पोस्ट कर दी। इसकी जानकारी लगने पर दिल्ली पुलिस मुख्यालय ने उसे तुरंत नौकरी से बर्खास्त कर दिया।

किसान आंदोलन का किया समर्थन

सिपाही मनीष मीणा ने पोस्ट में लिखा था कि किसान विरोधी पार्टियों को सत्ता में रहने का अधिकार नहीं है। आंदोलन को कुचलने में असफल हो गए तो अब किसानों को कुचल रहे हैं। उसने लखीमपुर खीरी मामले को लेकर तंज कसते हुए कहा था कि अरे भाइयों वह मंत्री हिस्ट्रीशीटर है, फिर तो उनकी गाड़ी चढ़ेगी ही। इंटरनेट मीडिया पर इस तरह की आपत्तिजनक पोस्ट डालने की सूचना मिलते ही पुलिस महकमे में हड़कंप मच गया।

27 अक्टूबर से नौकरी से किया गया बर्खास्त

पहले मुख्यालय के निर्देश पर सिपाही को उत्तरी जिला के डीसीपी सागर सिंह कलसी ने अपने कार्यालय बुलाकर लंबी पूछताछ की। डीसीपी की रिपोर्ट पर मुख्यालय ने उसे विगत 27 अक्टूबर को नौकरी से ही बर्खास्त कर दिया। यह पहला मामला है जब दिल्ली पुलिस के किसी सिपाही ने प्रधानमंत्री व गृह मंत्री के बारे आपत्तिजनक पोस्ट किया हो।

गौरतलब है कि 27 नवंबर, 2020 से दिल्ली-एनसीआर के चारों बार्डर (टीकरी, सिंघु, शाहजहांपुर और गाजीपुर बार्डर) पर कई राज्यों के किसान नए कृषि कानूनों के विरोध में प्रदर्शन कर रहे हैं। इसके चलते 11 महीने से रोजाना हजारों लोगों को जाम का सामना करना पड़ता है।

error: Content is protected !!