मर्डर मिस्ट्री; प्रेमिका के परिजनों ने युवक को करंट लगा कर मारा था छात्र हरचरण को

पीलीभीत: उत्तर प्रदेश के पीलीभीत में एक प्यार भरी प्रेम कहानी का दुःखद अंत हो गया। जहां प्रेमिका के घर वालों ने प्रेमी की बिजली का करंट लगाकर हत्या कर शब को एक गन्ने के खेत में फेंक दिया।

घर से गुरद्वारा जाने के लिए निकले छात्र का शव गन्ने के खेत में मिलने से क्षेत्र में हड़कम्प मच गया। आनन-फानन में पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेजा है। उधर, मृतक छात्र के परिजनों ने पूरे मामले को लेकर युवती के परिजनों पर हत्या करने का आरोप लगाकर पुलिस अधीक्षक से शिकायत की है। शिकायत के आधार पुलिस ने प्रेमिका मनप्रीत कौर और उसकी माँ सहित 4 लोगों के खिलाफ हत्या का केस दर्ज किया है। प्रेमिका और उसकी माँ को पुलिस ने गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है।

मृतक की नाक से खून निकलने… पैरों में बिजली के करंट के निशान थे
बता दें कि थाना गजरौला अंतर्गत पूरनपुर क्षेत्र के गांव मनहरिया खुर्द कलां निवासी हरचरन सिंह 8 सितंबर को गांव के ही अपने दोस्त निर्मल सिंह उर्फ निम्मा सहित तीन लोगों के साथ गुरुद्वारे जाने की बात कहकर प्रेमिका से मिलने निकला था। दोनों दोस्त युवक को केसरपुर गांव के समप छोड़कर चले आए थे। जिसका 9 सितंबर दिन गुरूवार को गन्ने के खेत में शव मिला था। मृतक प्रेमी की नाक से खून निकलने के साथ पैरों में बिजली करंट के निशान थे। पोस्टमार्टम रिपोर्ट में भी हरचरन की मौत बिजली का करंट लगने से होना पाया गया है।

युवती के परिजन प्रेम प्रसंग के खिलाफ थे
पूरे मामले को लेकर मृतक छात्र के जीजा ने थाना माधोटांडा में तहरीर देकर युवती के परिजनों पर हत्या का आरोप लगाकर कार्रवाई की मांग की थी। लेकिन पुलिस ने कोई कार्रवाई नहीं की। इसको लेकर मृतक छात्र हरचरन सिंह के जीजा देवेन्द्र पाल सिंह पुत्र दर्शन सिंह ने एसपी दिनेश कुमार पी को शिकायती पत्र देकर कार्रवाई करने की मांग की है। प्रार्थना पत्र में बताया गया है कि पीड़ित का साला हरचरन सिंह का एक युवती के साथ प्रेम प्रसंग चल रहा था। आरोप है कि युवती के परिजन प्रेम प्रसंग के खिलाफ थे और छात्र को जान से मारने की धमकी देते थे।

युवती ने फोन कर छात्र हरचरन सिंह को घर बुलाया
आरोप है कि 08 सितम्बर को युवती ने फोन कर छात्र हरचरन सिंह को घर बुलाया था। छात्र घर से गुरद्वारा जाने की बात कहकर रात को निकला था। काफी समय बीत जाने के बाद भी जब छात्र घर नहीं लौटा तो परिजनों ने उसकी तलाश की। दूसरे दिन हरचरन सिंह का शव एक गन्ने के खेत में देखा गया। उधर, मृतक छात्र के जीजा देवेन्द्र पाल सिंह ने युवती के परिजन गुरप्रीत सिंह, सुखविन्दर सिंह पुत्रगण बलदेव सिंह व बुटा सिंह की पत्नी पर हत्या करने का आरोप लगाकर पुलिस अधीक्षक दिनेश कुमार पी से शिकायत कर कार्रवाई करने की मांग की थी।

मृतक युवक के बहनोई की तहरीर पर दर्ज हुआ मुकदमा
युवक हरभजन सिंह की हत्या के मामले में पुलिस ने मृतक छात्र के बहनोई की तहरीर पर गुरप्रीत सिंह, मनप्रीत कौर पुत्री बूटा सिंह, सुखविन्दर सिंह पुत्रगण बलदेव सिंह व बुटा सिंह की पत्नी के खिलाफ हत्या के मामले में मुकदमा पंजीकृत किया है। आरोपी प्रेमिका और उसकी मां को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया है। एसएसपी के कहने पर धरना समाप्त कर दिया गया है। शेष 2 लोगों की गिरफ्तारी के लिए लोगों ने पुलिस को शाम तक का समय दिया है। शाम तक गिरफ्तार न किए जाने पर कल सुबह फिर धरना देने का ऐलान किया है।

आरोपियों की गिरफ्तारी की मांग पर किसान यूनियन ने किया हगांमा
हरचरन सिंह की हत्या के बाद पूरे नगर में मातम छाया है और हर कोई आरोपियों की गिरफ्तारी कराने की मांग कर रहे हैं। रविवार को अन्नदाता किसान यूनियन के जिलाध्यक्ष मनप्रीत सिंह के नेतृत्व में दर्जनों किसानों ने माधोटांडा में एकत्र होकर जमकर हंगामा किया और आरोपियों की गिरफ्तारी कराने पर अड़े रहे।

इस समाचार पर अपनी प्रतिक्रिया जरूर दें:

error: Content is protected !!