गर्लफ्रैंड हुई गर्भवती, पत्नी ने दी दूसरी शादी की इजाजत; जानिए क्या है पूरा मामला

बिलासपुर. छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) के बिलासपुर (Bilaspur) में हाल ही में हुई एक शादी की खूब चर्चा हो रही है. जिले के बिल्हा में पदस्थ शादीशुदा BEO की शादी, उनकी प्रेग्नेंट गर्लफ्रेंड से हुई है.

ये शादी बीईओ की पहली पत्नी की सहमति से हुई है. पहली पत्नी से बीईओ को कोई संतान नहीं हो रही थी. बताया जा रहा है कि इसलिए ही उन्होंने बीईओ पति की दूसरी शादी के लिए हामी भर दी. बीते गुरुवार को तखतपुर के एक सतनाम भवन में बीईओ और उनकी गर्लफ्रेंड की शादी की रस्म पूरी की गई.

दरअसल 4 दिन पहले एक 24 वर्षीय युवती मुंगेली के जरहागांव थाने में बिल्हा बीईओ BEO पवित्र सिंह बेदी के खिलाफ रेप का केस दर्ज कराने पहुंची थी. लड़की का कहना था कि बीईओ और उसके बीच सात साल से प्रेम संबंध था. इस बीच उनके बीच शारीरिक संबंध भी बने. इसके चलते हाल ही में वो गर्भवती हो गई. युवती के थाने पहुंचने की सूचना पर बीईओ भी थाने पहुंचे और युवती से शादी का वादा किया. इसके बाद वो बगैर शिकायत किए ही वापस लौट गई. इसके बाद उनकी शादी हुई. हालांकि मामले में शिक्षा विभाग ने बीईओ के खिलाफ जांच के आदेश दे दिए हैं.

पहले पत्नी के साथ हो चुकी थी मारपीट
युवती के पुलिस के पास पहुंचने की सूचना मिलते ही BEO हड़बड़ा कर जरहागांव थाने पहुंचा था. यहां गर्लफ्रेंड और परिवार के लोगों के बीच काफी देर तक विवाद होता रहा. मामले की जानकारी मिलने के बाद बीईओ की पहली पत्नी और उसकी प्रेमिका के बीच मारपीट भी हुई थी. बताया जा रहा है कि इसके बाद ही युवती थाने पहुंची थी. आखिर में अफसर ने परिवार वालों को भी समझाया और प्रेमिका को भी. पवित्र सिंह ने थाने में पुलिस के सामने लिखित में आश्वासन दिया था कि वो अपनी प्रेमिका से शादी करेगा.

पत्नी ने दी रजामंदी
शादी को लेकर सतनाम सत्संग समिति के अध्यक्ष चोवादास खाण्डेकर और अन्य पदाधिकारियों ने बताया कि पवित्र सिंह बेदी की पत्नी सुधा कौर से शादी को लेकर चर्चा की गई थी, जिसमें सुधा ने अपने पति पवित्र सिंह को दूसरी शादी करने की अनुमति दे दी है. खाण्डेकर ने बताया कि पवित्र सिंह बेदी की संतान नहीं होने के कारण उसकी पत्नी ने दूसरी शादी की सहमति दी है और तीनों की सहमति के बाद ही समिति ने वैवाहिक रस्मों को पूरा कराया है.

error: Content is protected !!