बेवफाई से खार खाई प्रेमिका बनी हत्यारन, रोका के दिन गला रेत कर की हत्या

प्रतापगढ़: उत्तर प्रदेश के प्रतापगढ़ में प्रेमी की बेवफाई से खार खाई प्रेमिका हत्यारन बन गई. जिस दिन प्रेमी का रोका होना था, उसी दिन नहर में उसका शव मिला.

पुलिस ने इस मामले में सनसनीखेज खुलासा करते हुए हत्यारिन प्रेमिका को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है. दरअसल, प्रेमिका नहीं चाहती थी उसकी शादी कही और हो इसलिए उसने अपने भाई और उसके दो दोस्तों के साथ मिलकर हत्या कर दी.

क्या है पूरा मामला?
सांगीपुर थाने के मुरैनी पूरे रंजीत में रामफेर के घर खुशियों का माहौल था क्योंकि उसके बेटे राजेन्द्र वर्मा का 31अगस्त को शादी का रोका होना था. लेकिन, नियति को कुछ और ही मंजूर था. रोका वाले दिन ही बेटे का शव मिला. बताया जा रहा है कि राजेन्द्र का अंतू थाने के रामनगर भोजपुर के अवधेश यादव की पत्नी सोना देवी से अवैध प्रेम संबंध था. वो राजेन्द्र से शादी करना चाहती थी. राजेन्द्र गुजरात के बड़ोदरा में काम करता था, उसकी शादी तय हुई तो रोका कार्यक्रम के लिए बड़ोदरा से घर को रवाना हुआ. बीती 29 तारीख को 9:30 पर लालगंज पहुचने तक पिता से बातें फोन पर होती रही. लेकिन, उसके बाद सम्पर्क टूट गया और तीसरे दिन उसका शव नहर में बहता मिला. पिता को सूचना मिली उसने शिनाख्त की.

भाई के साथ मिलकर रेत दिया गला
पुलिस ने खुलासा करते हुए बताया कि प्रेमिका सोना देवी प्रेमी द्वारा दूसरी जगह शादी करने से खफा थी और राजेंद्र को 29 तारीख को लखनऊ के बछरावां में बलेरो में बैठा लिया था. बलेरो में सोना देवी का भाई और उसके दो साथी भी थे. लालगंज तक सब ठीक रहा. लेकिन, उसके बाद सोना देवी उसका भाई और उसके दोनों साथी राजेन्द्र का गला रेत कर मौत के घाट उतार दिया.

इसके बाद शव को नहर में फेंक दिया. सोना द्वारा बताए गए स्थान से पुलिस ने आला कत्ल चाकू भी बरामद कर लिया और अवैध सम्बन्धों के चलते जहा राजेन्द्र को जान गवानी पड़ी तो वही अब सोना देवी सलाकों के पीछे पहुंच गई.

इस समाचार पर अपनी प्रतिक्रिया जरूर दें:

error: Content is protected !!