लड़की के चार सेकिंड के वॉइस मैसेज ने उड़ाए सबके होश, 3 महीने पहले हुई थी शादी

मुक्तसर के पास के गांव खिड़कियां वाला में करीब 3 महीने पहले शादी के बंधन में बंधी लड़की की ससुराल घर में हुई मौत के बाद लड़की के परिजनों ने ससुरालियों पर सल्फास देकर मारने के आरोप लगाए गए हैं। इन आरोपों के तहत नामज़द सदस्यों की गिरफ़्तारी न होने और लड़की के पोस्टमार्टम में देरी को लेकर लड़की के परिजनों, रिश्तेदारों और गांव वासियें की तरफ से गिद्दड़बाहा के कचहरी चौक में धरना लगाया गया। 4 सैकेंड का यह वॉयस मैसेज एक बेटी का दर्द बयान करता जिसमें वह कह रही कि उसे सल्फास दे दिया गया, जो गगनदीप की मौत का कारण बना।

शादी के 15 दिन बाद ससुरालियों ने दहेज के लिए किया तंग परेशान
इस मौके पर मृतक गगनदीप कौर निवासी विर्क खुर्द ज़िला बठिंडा के ताया परमजीत सिंह ने बताया कि उन्होंने अपनी लड़की गगनदीप कौर का विवाह करीब 3 महीने पहले गुरप्रीत सिंह निवासी खिड़किया वाला तहसील गिद्दड़बाहा ज़िला श्री मुक्तसर साहिब के साथ किया था और विवाह के समय अपनी हैसियत मुताबिक दहेज भी दिया था और विवाह के 10 -15 दिन तक सब कुछ ठीक रहा।

उसके बाद लड़की के ससुराल परिवार और पति ने उसे और दहेज और पैसे लाने के लिए तंग करना शुरू कर दिया। कुछ दिन पहले लड़की के ससुराल परिवार ने गगनदीप की मारपीट की और उसे हमारे पास छोड़ गए। उसके बाद पंचायती राज़ीनामा होने पर वह ससुराल घर गांव खिड़कियां वाला छोड़ आए, उससे करीब 10 दिन बाद फिर से उसके ससुरालियों ने मारपीट की और उसे गांव विर्क खुर्द छोड़ गए।

वायस मैसेज भेज बताया था दर्द
पिछले करीब 20 दिन से लड़की अपने मायके परिवार के पास रह रही थी और 2 दिन पहले गगनदीप की सास, पति और ननद गांव के लोगों को साथ लेकर आए और गगनदीप को अपने साथ ले गए, उसके बाद सुबह फ़ोन आया कि लड़की की मौत हो गई है। लड़की के रिश्तेदार सतनाम सिंह ने बताया कि लड़की का वायस मेसेज आया कि ससुराल परिवार ने मुझे सल्फास दे दी है। सतनाम सिंह ने बताया कि विवाहिता के पति गुरप्रीत सिंह का फ़ोन आया कि गगनदीप ने सल्फास खा ली है , जिस पर उन्होंने गुरप्रीत सिंह को गगनदीप को अस्पताल ले जाने के लिए कहा और जब हम मुक्तसर के एक निजी अस्पताल पहुंचे तो विवाहिता की लाश एबुलेंस में पड़ी थी और उसके पास कोई भी नहीं था।

इंसाफ मिलने पर ही करेंगे बेटी का संस्कार
परिजनो ने मांग की कि विवाहिता के ससुराल परिवार जिन पर पुलिस की तरफ से मामला दर्ज किया गया है, को जल्द गिरफ़्तार किया जाए और विवाहिता का पोस्टमार्टम करवाया जाए। उन्होंने कहा कि जब तक मामले में नामज़द लोगों को गिरफ़्तार नहीं किया जाता वह अपनी बेटी का संस्कार नहीं करेंगे। जब इस संबंधित थाना कोटभाई के एस.एच.ओ. नवप्रीत सिंह के साथ बात की तो उन्होंने बताया कि लड़की के ताया परमजीत सिंह के बयानों पर लड़की के पति, सास, 2 ननदों पर मामला दर्ज करके लड़की के पति को गिरफ़्तार कर लिया है और अन्यों की गिरफ़्तारी के लिए कार्रवाई जारी है।

error: Content is protected !!