गढ़चिरौली एनकाउंटर: 50 लाख का इनामी नक्सली मिलिंद तेलतुम्बडे भी ढेर, भीमा-कोरेगांव मामले में था आरोपी

महाराष्ट्र के गढ़चिरौली एनकाउंटर में पुलिस ने 50 लाख के इनामी नक्सली मिलिंद तेलतुम्बडे को मार गिराया। बताया जाता है कि मिलिंद तेलतुम्बडे भीमा कोरेगांव मामले में वांछित आरोपी था। दरअसल, शनिवार को मुंबई से करीब 900 किलोमीटर दूर पूर्वी महाराष्ट्र के गढ़चिरौली जिले में पुलिस के साथ मुठभेड़ में कम से कम 26 नक्सली मारे गए।

करीब 12 घंटे तक चली मुठभेड़
पुलिस अधिकारी ने कहा कि सुबह से शुरू हुई मुठभेड़ करीब 12 घंटे तक चली। गढ़चिरौली के पुलिस अधीक्षक अंकित गोयल ने रविवार को बताया कि प्रारंभिक पहचान के मुताबिक, मिलिंद शनिवार की मुठभेड़ में मारे गए 26 नक्सलियों में से एक था। फिलहाल, अन्य मारे गए नक्सलियों की पहचान की जा रही है। 

भीमा-कोरेगांव मामले में आरोपी था मिलिंद
मिलिंद तेलतुम्बडे पर पुणे पुलिस के एल्गार परिषद-भीमा कोरेगांव जातिगत दंगों में शामिल होने का भी आरोप था। मिलिंद की पत्नी भी माओवाद संगठन में थी, जिसे 2011 में गिरफ्तार कर लिया गया है।

मारे गए 26 नक्सलियों में 20 पुरुष और छह महिला
महाराष्ट्र के गृह मंत्री दिलीप वलसे पाटिल ने कहा कि शनिवार को गढ़चिरौली में हुए मुठभेड़ में कम से कम 26 नक्सली मारे गए, जिनमें 20 पुरुष और 6 महिलाएं शामिल हैं। गढ़चिरौली पुलिस ने पुष्टि की है कि इसमें मिलिंद तेलतुम्बडे (शीर्ष नक्सल कमांडर और भीमा कोरेगांव मामले में एक आरोपी) भी शामिल है।

ऐसे शुरू हुई मुठभेड़ 
गढ़चिरौली जिले के पुलिस अधीक्षक अंकित गोयल ने कहा कि मुठभेड़ सुबह मर्दिनटोला वन क्षेत्र के कोरची में शुरू हुई जब सी-60 पुलिस कमांडो की एक टीम तलाशी अभियान चला रही थी। मुठभेड़ में चार पुलिस कर्मी भी गंभीर रूप से घायल हो गए और उन्हें इलाज के लिए हेलीकॉप्टर से नागपुर ले जाया गया। यह जिला छत्तीसगढ़ की सीमा पर स्थित है।

चार जवान घायल
मुठभेड़ में चार जवान घायल हुए हैं। घायल पुलिसकर्मियों को नजदीकी अस्पताल में भर्ती कराया गया था। इसके बाद इन्हें एयरलिफ्ट किया गया। इन्हें नागपुर के क्रिटिकल केयर कॉमप्लेक्स ऑफ ऑरेंज सिटी हॉस्पिटल एंड रिसर्च इंस्टीट्यूट में भर्ती कराया गया है। जहां इनका इलाज जारी है।

HOTEL FOR LEASEHotel New Nakshatra

Hotel News Nakshatra for Lease. Awesome Property with 10 Rooms, Restaurant and Parking etc at Kullu.

error: Content is protected !!