एक घर में बना दिए 60 मतदाता, वोटरों में 11 मुर्दे भी, जांच शुरू

अपील का समय निकलने के बाद सुंदरनगर के सलाह वार्ड की वोटर लिस्ट में भारी अनियमितताएं सामने आई हैं। इस लिस्ट में एक ही वोटर के 32 जगह फोटो छाप दिए गए हैं। कई ऐसे वोटर भी हैं, जो काफी समय पहले मर चुके हैं। वहीं एक मकान में ही साठ वोट बना दिए गए हैं। इसकी शिकायत उपायुक्त मंडी से की गई है और मामला सामने आने के बाद उपायुक्त मंडी ने एसडीएम सुंदरनगर को जांच के आदेश दिए हैं।

मामला चुनाव आयोग को भी शुद्धि के लिए भेजा है। शिकायत में आरोप लगाए गए हैं कि नगर परिषद के चुनावों में अपने चहेते प्रत्याशियों को लाभ पहुंचाने की मंशा से मतदाता सूची में गड़बड़ी की गई है। मतदाता सूची में एक ही मकान में 60 प्रवासियों के वोट बने हैं। इसे काटने के लिए पहले ही आवेदन किया गया था लेकिन अंतिम प्रकाशित सूची में ये नाम काटे नहीं गए हैं।

प्रवासी मजदूरों का पता डेंटल कॉलेज के नजदीक एक ही मकान का बताया गया है। यह मकान इतना बड़ा नहीं है कि सभी 60 मजदूर और उनके परिवार यहां रह सकें। ये मजदूर मौसम के अनुसार आते हैं और लौट जाते हैं। मौसमी मजदूर नहीं भी हैं तो भी हिमाचल प्रदेश के स्थायी निवासी नहीं हैं। सवाल उठ रहे हैं कि क्या उन्होंने अपनी संबंधित पंचायत और नगर परिषदों में अपना नाम कटवाकर सुंदरनगर निर्वाचन अधिकारी के पास जमा करवाया है। यदि नहीं तो किस आधार पर इनके नाम सूची में शामिल किए गए हैं। वहीं एक व्यक्ति का 32 मतदाताओं की सूची में फोटो छापा गया है, जो अपने आप में एक घोटाला है। इसके अतिरिक्त वार्ड 4 को छोड़ चुके कई लोगों के नाम भी नहीं काटे गए हैं। कुछ लोगों के नाम बार-बार दर्शाए गए हैं। मतदाता सूची में 11 ऐसे लोगों के नाम भी लिखे गए हैं जिनका स्वर्गवास हो चुका है।  उपायुक्त मंडी ऋग्वेद ठाकुर ने शिकायत मिलने की पुष्टि की है। उन्होंने बताया कि एसडीएम को जांच के आदेश दिए हैं। मामला चुनाव आयोग को भी दुरुस्ती के लिए भेजा गया है। वोटर लिस्ट ठीक करवाई जा रही है।

Please Share this news:
error: Content is protected !!