राहगीरों को अश्लील इशारे करती पांच महिलाएं गिरफ्तार, जिस्मफरोशी के लिए उकसाने का आरोप

हरिद्वार। Haridwar Sex Crime: हरिद्वार में राहगीरों को अश्लील इशारे करने वाली पांच महिलाओं को पुलिस ने गिरफ्तार किया है। महिलाओं पर आरोप लगा है कि वे यहां से गुजर रहे लोगों को जिस्मफरोशी के लिए उकसा रही थी। सभी के खिलाफ फिलहाल पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर लिया है।

ये मामला हरिद्वार रेलवे स्टेशन के बाहर का है। दरअसल, इन सभी महिलाओं पर आरोप लगा है कि ये वहां से गुजर रहे लोगों के सामने अश्लील इशारे कर रही थी। पुलिस ने इन सभी के खिलाफ मुकदमा दर्ज करते हुए उन्हें गिरफ्तार कर लिया। साथ ही उन्हें कोर्ट में पेश करने की तैयारी की जा रही है। शहर कोतवाल अमरजीत सिंह ने बताया कि महिलाएं हरिद्वार और आसपास के क्षेत्रों की रहने वाली हैं। उनके परिवार वालों को सूचना दे दी गई है।

आटो चालक को बंधक बनाकर पीटा, मुकदमा दर्ज

बाइक को टक्कर मारने का आरोप लगाते हुए कुछ युवकों ने ऑटो चालक को बंधक बनाकर बुरी तरह पीटा। जिससे चालक गंभीर रूप से घायल हो गया। चालक का आरोप है कि साम्प्रदायिक टिप्पणी करते हुए हत्या की धमकी दी गई। पुलिस ने पीड़ित की शिकायत पर आरोपितों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया है। एक युवक को हिरासत में भी लिया गया है।

पुलिस के मुताबिक, ऑटो चालक आजम निवासी गांव सलेमपुर रानीपुर ने पुलिस को तहरीर देकर बताया कि बाइक सवार कुछ युवकों ने उसे रोक लिया। आरोप लगाया कि उसने उनके परिचित युवक की बाइक में टक्कर मारी है। ऑटो रिक्शा चालक का आरोप है कि युवक पहले उसे भूमानंद अस्पताल ले गए, फिर वहां से भेल के सेक्टर एक चौराहे पर ले जाकर उसका ऑटो रिक्शा पार्क करवा दिया। इसके बाद युवक उसे धीरवाली ज्वालापुर में अपने किराए के घर लेकर पहुंचे और बंधक बनाकर उसे बुरी तरह पीटा गया।

आरोप है कि साम्प्रदायिक टिप्पणी भी की गई। पिटाई कर तसल्ली करने के बाद युवकों ने ऑटो रिक्शा चालक को छोड़ दिया। तब ऑटो रिक्शा चालक ने कोतवाली पहुंचकर पुलिस को पूरे कहानी बताई। ज्वालापुर कोतवाली प्रभारी चंद्रचंद्राकर नैथानी ने बताया कि युवकों की पहचान राहुल, रोबिन, मनीष के तौर पर हुई है। उनके अन्य साथियों के नाम भी पता किए जा रहे हैं। जल्द ही आरोपितों को गिरफ्तार कर लिया जाएगा।

इस समाचार पर अपनी प्रतिक्रिया जरूर दें:

error: Content is protected !!