प्रथम वर्ष की छात्रा ने सहेली के साथ करवाया सामूहिक बलात्कार और आंखों से देखी पूरी वारदात

Highlights:
प्रथम वर्ष की छात्रा की सहेली की आंखों के सामने तीन आरोपियों ने किया रेप।
महिला को मारा-पीटा किसी को कुछ न बताने की धमकी दी।
लड़की मां-बाप ने लसूदिया थाना में मामला दर्ज कराया।

इंदौर : मध्य प्रदेश के इंदौर में कॉलेज के तीन छात्रों ने स्नातक प्रथम वर्ष में पढ़ने वाली एक महिला के साथ कथित तौर पर बलात्कार किया। दरअसल लड़की अपनी एक सहेली के कहने पर तीनों आरोपियों के साथ मध्य प्रदेश के धार जिले के मांडू गई थी। महिला की सहेली इस मामले में चौथी आरोपी है ।

जानकारी के मुताबिक यह घटना 23 अगस्त की है, जब सभी मांडू से लौट रह थे। पुलिस ने मामले में चारों आरोपियों के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है। हालांकि अभी तक किसी को भी गिरफ्तार नहीं किया गया है। शिकायतकर्ता ने अपने बयान में कहा कि आरोपी ने पूरी घटना को वीडियो रिकॉर्ड किया, पिटाई की और उसे धमकी दी कि वह इसके बारे में किसी को भी न बताए।

महिला की कोल्ड ड्रिंक में नशीली दवा मिलाई

उसने कहा कि तीनों आरोपियों ने उसका कोल्ड ड्रिंक में नशीली दवा मिलकर उसके साथ बारी-बारी से दुष्कर्म किया। उसकी महिला मित्र ने तीनों को बारी-बारी से उसके साथ बलात्कार करते देखा। घटना लसूदिया थाना क्षेत्र के एक आरोपी द्वारा किराए पर लिए गए फ्लैट में हुई।

सहेली के कहने पर गई थी महिला

पुलिस के अनुसार, शिकायतकर्ता की दोस्त पूजा नरवरिया 23 अगस्त को अपने तीन दोस्तों के साथ उनके घर पर गई थी। तीनों आरोपियों की पहचान आशीष, निपुल और पुनीत के रूप में हुई है। पूजा ने पीड़िता को अपने और अपने दोस्तों के साथ मांडू चलने के लिए कहा।

शाम करीब चार बजे इंदौर लौटते समय एक आरोपी आशीष ने पीड़िता को नशीली दवा मिलाकर कोल्ड ड्रिंक पिलाई। पुलिस ने कहा कि “पीड़िता को रात करीब 10 बजे होश आया। जब उसने खुद को आशीष द्वारा लिए गए फ्लैट नंबर -56 में पाया। पीड़िता की दोस्त के सामने ही तीनों आरोपियों ने उसके साथ बलात्कार किया।”

आरोपियों ने महिला को पीटा

पुलिस के मुताबिक चारों आरोपियों ने महिला की पिटाई भी की और धमकी भी दी। पहले तो वह वही करने के लिए तैयार हो गई जो उसे आरोपी ने करने को कहा था लेकिन बाद में उसने अपने एक दोस्त को घटना के बारे में बताया और उसके दोस्त ने बाद में अपने ही माता-पिता को घटना के बारे में बताया। पुलिस ने कहा कि पीड़िता पहले तो अपने माता-पिता को घटना के बारे में बताने से डर रही थी। हालांकि बाद में उसने मंगलवार को अपने माता-पिता को पूरी घटना के बारे में बताया।

माता-पिता ने मामला दर्ज कराया

इसके बाद पीड़िता के माता-पिता उसे लसूदिया थाने ले गए और शिकायत दर्ज कराया। पीड़िता का बयान दर्ज कर सामूहिक दुष्कर्म का मामला दर्ज किया गया है। इंदौर के पुलिस अधीक्षक आशुतोष बागरी ने कहा कि शिकायत दर्ज होने के तुरंत बाद जिस फ्लैट में अपराध किया गया था, उस पर छापा मारा गया था।

बागरी ने कहा कि सभी आरोपियों के संभावित ठिकानों पर छापेमारी की जा रही है। हम जल्द ही उन्हें पकड़ लेंगे।

error: Content is protected !!