बोर्ड ने कहा- अभी टाइम टेबल जारी नहीं किया, स्टूडेंट्स परेशान न हों; फेक शेड्यूल वायरल करने वालों के खिलाफ FIR होगी

UP बोर्ड के स्टूडेंट्स के लिए जरूरी खबर है। अगर आपके पास बोर्ड परीक्षा से जुड़ा कोई शेड्यूल पहुंचा तो तो सावधान हो जाइए। ये फर्जी शेड्यूल है। बोर्ड ने इसे फर्जी करार दिया है। माध्यमिक शिक्षा परिषद के सचिव दिव्यकांत शुक्ला ने बताया कि अभी हम यही तय कर रहे हैं कि कौन सी परीक्षा ली जाए और कौन सी नहीं। ऐसे में किसी ने शरारत करके ये फर्जी टाइम टेबल वायरल कर दिया है। इस मामले में FIR दर्ज कराई जाएगी।

10वीं की परीक्षा रद्द हो सकती है
यूपी बोर्ड भी CBSE की तर्ज पर 10वीं की परीक्षा रद्द कर सकता है। इसके बाद आंतरिक मूल्यांकन के आधार पर छात्रों का रिजल्ट तैयार कर दिया जाएगा। अफसर इस पर गंभीरता से विचार कर रहे हैं। जल्द ही इसका ऐलान भी हो सकता है। वहीं, 12वीं में भी केवल जरूरी विषयों की परीक्षा कराने की तैयारी है। हालांकि अभी इसपर भी पूरा फैसला नहीं हो पाया है।

20 मई से ऑनलाइन क्लास शुरू होगी
प्रदेश में 20 मई से 9वीं से 12वीं और हायर स्टडीज की ऑनलाइन कक्षाएं शुरू हो जाएंगी। दो दिन पहले ही इसके लिए राज्य सरकार ने आदेश जारी कर दिया है। इससे 10वीं और 12वी के स्टूडेंट्स तैयारी भी कर पाएंगे।

दो बार टल चुकी है परीक्षा
बोर्ड कोरोना के चलते दो बार परीक्षाओं को टाल चुका है। पहले ये परीक्षाएं 23 अप्रैल होनी थीं, लेकिन इस दौरान इलाहाबाद हाईकोर्ट ने पंचायत चुनाव कराने का आदेश दे दिया। इसके बाद परीक्षा की तारीख 8 मई से तय की गई, लेकिन कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए फिर से इसे टाल दिया गया। बोर्ड ने कहा था कि 15 मई के बाद इस पर विचार किया जाएगा, लेकिन इस बीच उत्तर प्रदेश के डिप्टी सीएम और शिक्षा मंत्री डॉ. दिनेश शर्मा खुद संक्रमित हो गए। उनके पीए की मौत भी हो चुकी है। शिक्षा विभाग के कई अफसर भी संक्रमित हैं। हाल ही में अयोध्या के DIOS बी चौहान की भी कोरोना से मौत हो गई थी।

error: Content is protected !!