प्रदेश में बर्ड फ्लू के मामलों के चलते राजधानी स्थित पक्षी चिड़ियाघरों में आम लोगों की एंट्री पर रोक

प्रदेश में बर्ड फ्लू के मामलों को देखते हुए राजधानी स्थित पक्षी चिड़ियाघरों में आम लोगों की एंट्री बंद कर दी है। वन्यजीव विभाग ने सोमवार से ही लोगों की एंट्री पर रोक लगा दी है। बता दे कि पौंग झील में प्रवासी पक्षियों में बर्ड फ्लू की पुष्टि होने के बाद सरकार व कांगड़ा प्रशासन अलर्ट हो गया है। पशुपालन और वन्य प्राणी विभाग के 65 त्वरित प्रतिक्रिया दल पौंग डैम और आसपास के क्षेत्रों की निगरानी कर रहे हैं।

पौंग झील में मृत पक्षियों पर कड़ी नजर रखी जा रही है। अगर कोई पक्षी मृत मिल रहा है तो उसे उठाकर प्रोटोकॉल के तहत दफनाया जा रहा है। बता दे कि चौड़ा मैदान में पक्षी चिड़ियाघर है। यहां कई प्रजाति के पक्षी रखे गए हैं। वही कुफरी में भी पक्षियों के चिड़ियाघर में जाने पर रोक लगाई गई है। हालांकि, लोग चिड़ियाघर के अंदर जाकर बाकी जानवरों को देख सकते हैं।

लेकिन जिस जगह पर पक्षी रखे गए हैं, वहां घूमने फिरने या किसी के जाने पर पाबंदी लगी है। चायल के खड़िवन स्थित चीड़ फिजेंटरी में पहले से ही आम लोगों की एंट्री पर पाबंदी है। हालांकि अभी तक शिमला में बर्ड फ्लू का कोई मामला सामने नहीं आया है।

Please Share this news:
error: Content is protected !!