DRDO ने किया पिनाका रॉकेट का सफल परीक्षण, 45 किलोमीटर तक कर सकता है मार

Delhi News: शुक्रवार को रक्षा अनुसंधान एवं विकास संगठन ने स्वदेशी रूप से निर्मित पिनाका रॉकेट का सफल परीक्षण किया। यह स्वदेशी रॉकेट रॉकेट 45 किलोमीटर तक की दूरी पर टारगेट को नष्ट कर सकता है। DRDO ने बताया ओडिशा तट के पास चांदीपुर एकीकृत परीक्षण रेंज से ये सफलतापूर्वक परीक्षण किया गया। जानकारी के अनुसार पिनाका रॉकेट्स को मल्टी-बैरल रॉकेट लॉन्चर से छोड़ा जाता है। यह लॉन्चर केवल 44 सेकेंड्स में 12 रॉकेट्स दागने की क्षमता रखता है। इसको भगवान शंकर के धनुष ‘पिनाक’ के नाम पर विकसित किया गया है। इस मिसाइल सिस्टम को भारत और पाकिस्तान से लगी सीमाओं पर तैनात किया जा सकता है। पिनाका मूल रूप से मल्टी-बैरल रॉकेट सिस्टम है।

इससे सिर्फ 44 सेकेंड्स में 12 रॉकेट दागे जा सकते हैं। डीआरडीओ की ओर से जारी किए गए बयान में कहा गया है कि पिनाका सिस्टम की एक बैटरी में छह लॉन्च व्हीकल होते हैं, साथ ही लोडर सिस्टम, रडार और लिंक विद नेटवर्क सिस्टम और एक कमांड पोस्ट होती है। एक बैटरी के जरिए 1×1 किलोमीटर एरिया को पूरी तरह ध्वस्त किया जा सकता है। अधिकारियों का कहना है कि यह कम तीव्रता वाली युद्ध जैसी स्थिति के दौरान काम करने में बेहद कारगर है और सैन्य क्षमता में जबर्दस्त इजाफा करती है.

# | DRDO successfully test fired the extended-range version of indigenously developed Pinaka rocket from a Multi-Barrel Rocket Launcher (MBRL) on 24th and 25th June 2021 at Integrated Test Range (ITR), Chandipur off the coast of Odisha. pic.twitter.com/6Qb0XN3VZD

Share This News:

Get delivered directly to your inbox.

Join 1,139 other subscribers

error: Content is protected !!