पंजाब में बर्ड फ्लू की पुष्टि के बाद लिया बड़ा फैसला

डेराबस्सी: डेराबस्सी गांव बेहड़ा में दो पोल्ट्री फार्मों में बर्ड फ्लू की पुष्टि होने बाद में प्रशासन हरकत में आ गया है। उक्त दोनों पोल्ट्री फार्मों में मुर्गों को मारने की तैयारी कर ली गई है। प्रशासन द्वारा 22 जनवरी से इस मुहिम की शुरुआत की जाएगी। हालांकि पहले यह मुहिम 21 जनवरी से शुरू होनी थी लेकिन तैयारियां मुकम्मल न होने के चलते अब यह मुहिम 22 से शुरु की जाएगी।

डी.सी. मोहाली गिरीश दयालन ने बताया कि भोपाल की लैब से गांव बेहड़ा स्थित अल्फा और रॉयल पोल्ट्री फार्म की मुर्गियों के सैंपलों की रिपोर्ट पॉजीटिव आई थी। दोनों पोल्ट्री फार्मों की करीब पचास हजार से ज्यादा मुर्गियों को मारा जाएगा। इसके लिए 25 टीमें बनाई गई हैं। हर टीम में पांच मैंबर हैं। टीमें को पी.पी.ई. किट, सदस्यों को क्वॉरंटाइन भेजने का प्रबंध और जे.सी.बी. मुहैया करवा दी गई है।

प्रशासन की ओर से दोनों पोल्ट्री फार्म के 10 किलोमीटर के दायरे को कंटेनमैंट जोन घोषित किया गया है। इस दायरे में कोई भी पोल्ट्री या चिकन की कमर्शियल गतिविधि नहीं होगी। यह वायरस के फैलाने से रोकने के लिए ठोस प्रबंध किए गए हैं। बर्ड फ्लू की रोकथाम के लिए जिले में दो रैपिड रिस्पांस टीमें बनाईं गई हैं, जो पूरे जिले में पक्षियों की मौत संबंधी जांच करेंगी। यह वायरस पक्षियों से मानव भी आ जाता है। दोनों पोल्ट्री फार्मों में काम करने वाले कर्मियों और यहां के संपर्क में आने वाले हर एक व्यक्ति की जांच की जाएगी।

Please Share this news:
error: Content is protected !!