दलित किशोरी के साथ गैंगरेप, नशीली गोलियां खिलाकर रातभर दरिंदगी

फिरोजाबाद में सिरसागंज थानान्तर्गत एक दलित बालिका के साथ सामूहिक दुष्कर्म किए जाने का मामला प्रकाश में आया है। आरोपियों ने बुधवार की रात्रि को वारदात को अंजाम दिया। मामले में चार मुख्य आरोपी और दो उनके साथी बताए जा रहे है। रात्रि में बालिका को अपने साथ नहर किनारे एक खेत में ले गए और वहां सभी ने उसके साथ दुष्कर्म किया। 

बालिका पूरी रात्रि घर से गायब रही। सुबह परिजनों ने उसकी काफी खोजबीन की तो बदहवास अवस्था में बालिका घटनास्थल पर मिली। परिजन उसे घर ले आए और यहां बालिका ने परिजनों को आपबीती सुनाई। मामले में पीडित परिजनों की ओर से थाने में तहरीर दी गई है। नाबालिक के साथ सामूहिक दुष्कर्म के मामले से हडकम्प मचा हुआ है। 

बालिका रात्रि को करीब आठ बजे शौच को गई थी लेकिन फिर काफी देर तक वह वापस नहीं लौटी। जिस पर परिजनों को चिंता हुई थी। रात भर बालिका को आसपास खोजा लेकिन कोई सुराग नहीं लगा। परिजनों ने सुबह फिर से खोजबीन शुरू की तो बालिका ग्राम नगला पंचम में नहर किनारे एक खेत में पड़ी मिली। परिजन उसे घर ले आए और बालिका से पूछताछ की।

भयभीत बालिका ने परिजनों के सामने अपने साथ हुए दुष्कर्म की बात बताई। इससे परिजनों में हड़कम्प मच गया। बालिका की हालत खराब होने पर परिजन उसे उपचार के लिए ले गये। पीड़िता के पिता की तहरीर पर पुलिस ने 4 मुख्य आरोपियों और उनके दो अन्य साथियों के खिलाफ मुकदमा पंजीकृत कर लिया है। अब पुलिस आगे की कार्यवाही में जुट गई है। 

धमकियों से डरकर पंजाब भागा था पीड़िता का परिवार 
सिरसागंज। पीडिता के पिता के अनुसार जब उन्होंने अपनी बच्ची के साथ हुई दुराचार की घटना के बारे में आरोपियों के परिजनों से बात करने की कोशिश की तो उल्टा वह पीडिता को ही धमकाने लगे। आरोपियों की ओर से पीडिता के परिजनों को पुलिस कार्यवाही करने पर जान से मारने की धमकी भी दी गई। तहरीर में उपरोक्त बातों का वर्णन करते हुए पिता ने कहा कि डर के कारण वह पंजाब चला गया था। इसलिए घटना 3 जून की रात्रि को हुई और हमने तहरीर अब दी है। डर की वजह से हम इतने दिन पंजाब रहे और फिर लौटकर आए हैं तब तहरीर दी है। 

दुष्कर्म से पूर्व बालिका को खिलाई नशे की गोलियां 
सिरसागंज। पीडिता के पिता के अनुसार जब बालिका शौच के लिए खेत पर गई थी तभी ग्राम नगला पंचम निवासी प्रेम पुत्र बच्चू यादव, अतुल यादव, अजय पुत्र सर्वेश यादव व छोटे लाल अपने दो अन्य साथियों के साथ आए और बालिका को खेत से उठा ले गए। बाद में इन्होंने बालिका को नशीली गोलियां खिला दी। फिर सभी ने उसके साथ सामूहिक रूप से दुष्कर्म किया। पूरी रात भर बालिका के साथ दरिंदगी की गई। 


Please Share this news:
error: Content is protected !!