कश्मीरियों को भी 370 हटाने की वजह नहीं समझा पाए, वो भी वापिस लीजिए- सुशांत सिन्हा

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बीते दिन तीनों कृषि कानूनों को रद्द करने का फैसला किया और कहा कि वह किसानों को समझा पाने में असफल रहे, ऐसे में वह इस महीने के अंत में शुरू होने वाले संसद सत्र में कानून को रद्द करने की प्रक्रिया करेंगे।

पीएम मोदी के इस फैसले से जहां एक तरफ किसानों में खुशी का माहौल है तो वहीं कुछ लोगों में आक्रोश भी देखने को मिला। पत्रकार सुशांत सिन्हा ने पीएम नरेंद्र मोदी के इस कदम का विरोध करते हुए वीडियो शेयर किया, जिसमें उन्होंने कहा कि ऐसा ही है तो धारा 370 भी हटा दीजिए।

सुशांत सिन्हा ने कानून वापसी पर वीडियो में पीएम मोदी पर नाराजगी जाहिर की और कहा, “आप जब ये कानून लेकर आए तो हम जैसे पत्रकारों ने यह कानून पढ़ा, एक-एक चीज को समझा और लोगों को भी समझाने की कोशिश की कि जो सालों में उनके लिए नहीं हुआ है वो अब होने वाला है।”

सुशांत सिन्हा ने अपनी नाराजगी जाहिर करते हुए आगे कहा, “अब आप यूपी और पंजाब चुनाव से पहले अचानक यह निर्णय ले लें कि मेरे अंदर की संवेदनशीलता यह कहती है कि हम कानून नहीं समझा पा रहे हैं तो इसे वापस ले लो। आप तो कश्मीर के लोगों को धारा 370 हटाने की वजह भी नहीं समझा पा रहे हैं तो 370 वापस ले लीजिए।”

सुशांत सिन्हा ने पीएम मोदी पर बरसते हुए आगे कहा, “अगर एक साथ लोग 20 लाख लोग खड़े हो जाएं और एक साल के लिए आंदोलन कर दें कि हमें इनकम टैक्स नहीं भरना है तो आप वो भी हटा लीजिए कि हम लोगों को समझा पाने में नाकामयाब रहे तो हम हटा रहे हैं। लेकिन आप ऐसा नहीं करेंगे, क्योंकि इनकम टैक्स आपके वोट पर इतनी चोट नहीं करेगा।”

सुशांत सिन्हा अपने इस वीडियो के कारण लोगों के निशाने पर आ गए हैं। पत्रकार साक्षी जोशी ने न्यूज एंकर के वीडियो को शेयर करते हुए लिखा, “आज का टूलकिट ये आया है ‘मुझे खूब कोसो, कसम से कुछ नहीं कहूंगा ना अनफॉलो करूंगा।” जय सिंह नाम के यूजर ने लिखा, “चुप रहो, काहे बेइज्जती करवाने पर तुले हो, साहेब बेरोजगार करवा देंगे।” तरुण कुमार नाम के यूजर ने लिखा, “छुपाना भी नहीं आता, जिसपर विरोध होना चाहिए, उसपर विरोध होगा ही। इनकम टैक्स पेय करने वाले कम हैं, इसलिए अपने वोट से सत्ता पर चोट नहीं कर सकते।”

Please Share this news:
error: Content is protected !!