कोरोना: अमेरिका के बाद अब भारत में मिले एवाई.2 संक्रमित मरीज

देश में डेल्टा वैरिएंट के काफी मामले सामने आ रहे हैं लेकिन अब डेल्टा प्लस वैरिएंट भी सामने आने लगा है। अब तक देश में इससे संक्रमित 22 मरीज मिल चुके हैं जिनमें से अकेले दो जिले में ही 16 मामले हैं। मंगलवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस में केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव राजेश भूषण ने बताया कि डेल्टा प्लस अब तक दुनिया के 10 देशों में मिल चुका है।

भारत में रत्नागिरी और जलगांव में 16 मामले मिले हैं। जबकि अन्य मामले केरल, मध्यप्रदेश, तमिलनाडु में हैं। स्वास्थ्य मंत्रालय ने इन राज्यों को एडवाइजरी जारी करते हुए कहा है कि डेल्टा प्लस वैरिएंट को लेकर किस तरह के कार्य करने हैं। जमीनी स्तर पर जांच को बढ़ाने के साथ साथ राज्यों से निगरानी पर जोर देने के लिए कहा है।

उन्होंने स्पष्ट कहा है कि सरकार इस वैरिएंट को बढ़ावा देना नहीं चाहती है। इसलिए राज्यों से इस पर गंभीरता से कार्य करने के निर्देश दिए थे। अब तक देश में 45 हजार सैंपल की सीक्वेंसिंग हो चुकी है। देश की 28 लैब में यह सीक्वेंसिंग हो रही है। उन्होंने बताया कि डेल्टा वैरिएंट से ही डेल्टा प्लस निकला है।

सचिव ने कहा कि कोरोना वायरस में म्यूटेशन देखने को मिल रहे हैं लेकिन इनसे बचने के लिए तरीके एक जैसे हैं। भीड़ से दूर रहना, मास्क और बार बार हाथ धोने के जरिए इनसे बचा जा सकता है। इसलिए लोगों के लिए अब बहुत जरूरी है कि कोविड सतर्कता नियमों का पालन किया जाए।

नेपाल में भी मिला कोरोना का डेल्टा प्लस वैरिएंट
भारत के साथ नेपाल में भी कोरोना वायरस का डेल्टा प्लस वैरिएंट मिल चुका है। काठमांडू से दिल्ली जीनोम सीक्वेंसिंग के लिए आए 48 में से 9 सैंपल में इसकी पुष्टि हुई है। विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) के सहयोग से जीनोम सीक्वेंसिंग के लिए नेपाल से लगातार सैंपल दिल्ली भेजे जा रहे हैं। नई दिल्ली स्थित आईजीआईबी संस्थान के विशेषज्ञ इन सैंपल की जीनोम सीक्वेंसिंग कर रहे हैं।

काठमांडो से दिल्ली आए 48 में से 9 सैंपल में हुई पुष्टि
आईजीआईबी ने बताया कि नौ जून को 48 सैंपल सीक्वेंसिंग के लिए प्राप्त हुए थे। इस दौरान नौ सैंपल में डेल्टा प्लस वैरिएंट मिला है। जबकि 48 में से 47 सैंपल में डेल्टा वैरिएंट की पहचान हुई है। इसे लेकर नेपाल के स्वास्थ्य मंत्रालय ने अलर्ट भी जारी कर दिया है क्योंकि भारत में दूसरी लहर के हालात सभी की जानकारी में है। नेपाल, यूके, अमेरिका सहित दुनिया के सभी प्रभावित देश डेल्टा वैरिएंट की मौजूदगी से सतर्क हो चुके हैं। 

महाराष्ट्र में सामने आए डेल्टा प्लस वैरिएंट के 21 मामले
मुंबई।  देश की आर्थिक राजधानी में खतरनाक डेल्टा प्लस वैरिएंट के मामले में लगातार वृद्धि हो रही है। सोमवार को महाराष्ट्र में डेल्टा प्लस वैरिएंट के 21 मामले सामने आए। इसको लेकर विशेषज्ञों ने घोर चिंता जताई है।

राज्य के स्वास्थ्य मंत्री राजेश टोपे ने कहा कि कोरोना के नए डेल्टा प्लस वैरिएंट की जांच के लिए बीते 15 मई से अब तक राज्यभर से 7 हजार 500 नमूने लिए गए थे। जिसमें से अब तक डेल्टा प्लस वैरिएंट के 21 मामले सामने आए हैं। जो नए मामले मिले हैं उसमें रत्नागिरी में 9, जलगांव में 7, मुंबई में 2, पालघर में 1, सिंधुदुर्ग में 1 और ठाणे में 1 डेल्टा प्लस वैरिएंट का मामला सामने आया है। इन मरीजों के स्वास्थ्य संबंधी जानकारी जुटाई जा रही है।

Get delivered directly to your inbox.

Join 61,615 other subscribers

error: Content is protected !!