धंधा पड़ा मंदा तो कारोबारियों ने चुन लिया जिस्मफरोशी का धंधा, ऑनलाइन देहव्यापार के मामले बढ़े

Delhi News: कोरोना काल में जब स्पा का कारोबार मंदा पड़ा तो इस कारोबार से जुड़े दर्जनों लोगों ने जिस्मफरोशी का धंधा अपना लिया। कोई ब्यूटी पार्लर की आड़ में सेक्स रैकेट चलाने लगा तो कोई ऑनलाइन प्लैटफॉर्म पर ग्राहकों को लड़कियां परोसने लगा। महज दस दिन के भीतर नोएडा की पुलिस ने अलग-अलग थाना क्षेत्रों में तीन बड़े सेक्स रैकेट का खुलासा किया है।

इस खुलासे में चौकाने वाली बात यह सामने आई है कि स्पा सेंटर में काम करने वाली लड़कियों की गरीबी का फायदा उठाकर उन्हें जिस्मों के इस गंदे धंधे में धकेल दिया गया। एडीसीपी नोएडा जोन वन रणविजय सिंह ने बताया कि तीन बड़े सेक्स रैकेट का खुलासा करने के बाद अभी भी पुलिस के रडार पर दो दर्जन से अधिक गिरोह हैं, जो इस धंधे में लिप्त हैं। इन लोगों पर कड़ी नजर रखी जा रही है और जल्द कई और सेक्स रैकेट का पर्दाफाश होगा।

विदेशों और अन्य राज्यों से आती हैं लड़कियां
देह व्यापार के लिए जिले में विदेशों सहित अन्य राज्यों की युवतियों को बुलाया जाता है। एंटी ह्यूमन ट्रैफिकिंग यूनिट ने बीते हफ्ते जिस सेक्स रैकेट का खुलासा किया उसमें एक युवती नेपाल और एक पश्चिम बंगाल की थी। सेक्स रैकेट के संचालक करीब 90 फीसद मुनाफा खुद लेते हैं और बाकी का पैसा उन लड़कियों को दिया जाता है।

सेक्टर 51 के एक तीन मंजिला मकान में चल रहे सेक्स रैकेट को थाना सेक्टर 49 पुलिस ने सोमवार देर रात पकड़ा था। यहां भी जब लड़कियों से पूछताछ की गई तो पता चला कि संचालक और संचालिका ने उनकी गरीबी का फायदा उठाकर उन्हें इस धंधे की तरफ धकेल दिया।

चौकी प्रभारियों को सौंपी गई जिम्मेदारी
एडीसीपी रणविजय सिंह ने बताया कि तीन बड़े सेक्स रैकेट के खुलासे के बाद जिले के सभी चौकी प्रभारियों को निर्देशित किया गया है वह क्षेत्र में चलने वाले होटल, गेस्ट हाउस और अन्य अड्डों पर विशेष नजर रखें। जनता के बीच में जाकर उन स्थलों की पहचान करें जहां ऐसी गतिविधियां संचालित होने की संभावना है।

ऑनलाइन मॉनिटरिंग बनी चुनौती
सेक्स रैकेट का पूरा कारोबार अब ऑनलाइन मोड पर आ चुका है। संशाधनों का अभाव और कर्मचारियों की कमी से इससे पुलिस विभाग की परेशानी बढ़ गई है। एडीसीपी का कहना है कि हाल ही में सेक्स रैकेट में जिन लोगों को गिरफ्तार किया है, उनसे काफी इनपुट मिले हैं। ऑनलाइन निगरानी बढ़ा दी गई है। डीसीपी वीमन एंड सेफ्टी वृंदा शुक्ला ने कहा कि कोविड के कारण अब पहले की अपेक्षा ऑनलाइन देह व्यापार के ज्यादा मामले सुनने में आ रहे हैं। उसी हिसाब से पुलिस भी अपने काम करने का तरीका बदल रही है।

हाल के दिनों में इन गिरोह का हुआ पर्दाफाश:
1. थाना सेक्टर 49 पुलिस ने शहर में ब्यूटी पार्लर की आड़ में चल रहे एक सेक्स रैकेट का पर्दाफाश बीते शुक्रवार को किया। पार्लर की संचालिका पकड़ी गई और तीन पीड़ित युवतियों को भी छुड़ाया था।

2. नोएडा के सेक्टर 56 स्थित गेस्ट हाउस से ऑनलाइन बुकिंग से देह व्यापार कराने वाले गिरोह का पर्दाफाश किया। दो आरोपितों को गिरफ्तार किया।

3. सोमवार को सेक्टर 51 के एक तीन मंजिला मकान में चल रहे सेक्स रैकेट का खुलासा किया। 16 पुरुष और 12 महिलाओं को हिरासत में लिया था।

error: Content is protected !!