ब्राह्मण विदेशी हैं, ब्राह्मण सुधर जाएं या फिर वोल्गा जाने को तैयार हो जाएं- नंद कुमार बघेल

छत्तीसगढ़ की सियासत में पिता-पुत्र के खिलाफ ठन गई है। राज्य के मुख्यमंत्री सीएम भूपेश बघेल के पिता नंद कुमार बघेल के खिलाफ सामाजिक सौहार्द बिगाड़ने के आरोप में मुकदमा दर्ज किया गया है। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल का कहना है कि कानून से ऊपर कोई नहीं है, चाहे वो मुख्यमंत्री के पिता ही क्यों न हों। 

क्या है मामला 
पिछले महीने लखनऊ में आयोजित कार्यक्रम में नंद कुमार बघेल ने ब्राह्मणों पर टिप्प्णी की थी। मीडिया से बात करते हुए उन्होंने कहा था कि अब वोट हमारा राज तुम्हारा नहीं चलेगा। हम आंदोलन करेंगे। ब्राह्मणों को गंगा से वोल्गा (रूस की एक नदी) भेजेंगे। क्योंकि ब्राह्मण विदेशी हैं। ब्राह्मण सुधर जाएं या फिर वोल्गा जाने को तैयार हो जाएं।

भूपेश बघेल बोले-पुलिस कार्रवाई करेगी
मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के पिता की ओर से की गई टिप्पणी के बाद सर्व ब्राह्मण समाज की ओर से शिकायत की गई थी। इस शिकायत के बाद सोशल मीडिया पर कई पोस्ट किए गए थे, जिसमें यह लिखा गया था कि नंद कुमार बघेल के ऊपर कार्रवाई नहीं होगी क्योंकि वे मुख्यमंत्री के पिता हैं। इस पर सीएम बघेल का कहना है कि उनके पिता की ओर से की गई टिप्पणी से सामाजिक सद्भाव को ठेस पहुंची है। ऐसी टिप्पणी करने का अधिकार किसी को नहीं है। चाहे वो मुख्यमंत्री के पिता ही क्यों न हों। उन्होंने कहा कि इस संबंध में पुलिस अपनी कार्रवाई करे। इसके बाद ही रायपुर पुलिस की ओर से डीडी नगर थाने में नंद कुमार बघेल के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया है।  

पहले भी कर चुके हैं ब्राह्मणों के खिलाफ टिप्पणी 
सीएम भूपेश बघेल के पिता पहले भी ब्राह्मणों के खिलाफ टिप्पणी कर चुके हैं। चुनाव से पहले उन्होंने कहा था कि कांग्रेस को राजस्थानी ब्राह्मणों को टिकट नहीं देना चाहिए। करीब 20 साल पहले उनकी किताब ‘ब्राह्मण कुमार रावत को मत मारो’ ने भी काफी बवाल करवाया था, जिसके बाद सरकार ने इस किताब की बिक्री को प्रतिबंधित कर दिया था। 

error: Content is protected !!