बरेली में ऑक्सीजन सिलेंडर की कालाबाजारी, नकली रेमडेसिवीर इंजेक्शन के मामले में केस

जबलपुर — कोरोना संकटकाल के दौरान मरीजों को नकली रेमडेसिवीर इंजेक्शन मुहैया कराने के सिलसिले में पुलिस ने यहां एक अस्पताल संचालक समेत तीन लोगों के खिलाफ आपराधिक प्रकरण दर्ज कर इस मामले की गहन जांच शुरू कर दी है।पुलिस सूत्रों के अनुसार ओमती थाना पुलिस ने कल यहां एक अस्पताल के संचालक सरबजीत मोखा और उसके दो सहयोगियों देवेश चौरसिया तथा सपन जैन के खिलाफ मामला दर्ज कर मामले की जांच प्रारंभ की है।

बताया गया है कि अस्पताल संचालक अपने सहयोगियों के साथ रेमडेसिवीर के नकली इंजेक्शन सप्लाई कर रहा था। इस संबंध में गुजरात पुलिस से प्राप्त सूचना के आधार पर जबलपुर पुलिस भी सक्रिय हुयी और प्रारंभिक पड़ताल के बाद यह मामला दर्ज किया है। अब इसकी गहन जांच की जा रही है।

बरेली में ऑक्सीजन सिलेंडर की कालाबाजारी, नकली रेमडेसिवीर इंजेक्शन के मामले में केस




जबलपुर — कोरोना संकटकाल के दौरान मरीजों को नकली रेमडेसिवीर इंजेक्शन मुहैया कराने के सिलसिले में पुलिस ने यहां एक अस्पताल संचालक समेत तीन लोगों के खिलाफ आपराधिक प्रकरण दर्ज कर इस मामले की गहन जांच शुरू कर दी है।पुलिस सूत्रों के अनुसार ओमती थाना पुलिस ने कल यहां एक अस्पताल के संचालक सरबजीत मोखा और उसके दो सहयोगियों देवेश चौरसिया तथा सपन जैन के खिलाफ मामला दर्ज कर मामले की जांच प्रारंभ की है।

बताया गया है कि अस्पताल संचालक अपने सहयोगियों के साथ रेमडेसिवीर के नकली इंजेक्शन सप्लाई कर रहा था। इस संबंध में गुजरात पुलिस से प्राप्त सूचना के आधार पर जबलपुर पुलिस भी सक्रिय हुयी और प्रारंभिक पड़ताल के बाद यह मामला दर्ज किया है। अब इसकी गहन जांच की जा रही है।



बरेली में ऑक्सीजन सिलेंडर की कालाबाजारी, व्यापारी पर मुकदमा

बरेली — उत्तर प्रदेश के बरेली में ऑक्सीजन सिलेंडर की कालाबाजारी के मामले में औषधि विभाग ने प्रेमनगर थाने में एक व्यापारी पर मुकदमा दर्ज किया है। औषधि निरीक्षक उर्मिला वर्मा ने आज यहां यह जानकारी दी। उन्होंने बताया कि पारस गुप्ता ने होम आइसोलेट मरीज के लिए ऑक्सीजन सिलेंडर बिक्री के दाम चालीस हजार रुपए बताएं।

शनिवार शाम एक ऑडियो वायरल हुआ, जिसमें बात करने वाला शख्स पारस गुप्ता से ऑक्सीजन सिलेंडर की मांग कर रहा है। उसे बताया जा रहा है कि होम आइसोलेट मरीज के लिए बड़ा सिलेंडर खरीदना है। पारस ने बताया कि वह चालीस हजार रुपए मिलेगा।

उन्होंने बताया कि ऑडियो के आधार पर औषधि निरीक्षक उर्मिला वर्मा ने आक्सीजन की कालाबाजारी मानते हुए मुकदमा थाना प्रेम नगर में रविवार रात आरोपी व्यापारी के खिलाफ धारा 420 ,आपदा प्रबंधन अधिनियम 2005 की धारा 53 के तहत धोखाधड़ी और महामारी एक्ट के तहत मुकदमा दर्ज कराया है।

गौरतलब है कि शनिवार को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के बरेली दौरे और केंद्रीय राज्य मंत्री संतोष गंगवार द्वारा मुख्यमंत्री को दिए गए पत्र के बाद से जिला प्रशासन ने यह काईवाई की है।

error: Content is protected !!