हिमाचल प्रदेश के देहरा, ज्वाली, फतेहपुर में अलर्ट बर्ड फ्लू की आशंका

तहसील फतेहपुर के पौंग झील क्षेत्र में रहस्यमय ढंग से करीब 1200 प्रवासी पक्षियों के मृत पाए जाने के बाद प्रशासन के हाथ-पांव फूले हुए हैं। डीसी कांगड़ा राकेश कुमार प्रजापति ने फतेहपुर, ज्वाली और देहरा के एसडीएम को अलर्ट कर दिया है। बर्ड फ्लू फैलने की आशंका के चलते डीसी कांगड़ा ने सोमवार को फतेहपुर, ज्वाली और देहरा के एसडीएम के साथ हालात पर काबू पाने को लेकर आपातकालीन बैठक रखी।

बैठक के दाैरान वन्य जीव प्राणी और पशुपालन विभाग के अधिकारी भी हिस्सा लेंगे। डीसी कांगड़ा राकेश प्रजापति ने बताया कि फतेहपुर, ज्वाली और देहरा के एसडीएम को अलर्ट कर दिया गया है। अभी तक सिर्फ प्रवासी पक्षियों की ही मौत हुई है। हो सकता है कि इन पक्षियों की मौत बर्ड फ्लू की वजह से हुई हो।

प्रवासी पक्षियों के सैंपल की रिपोर्ट सोमवार को आ सकती है। इससे पता चलेगा कि आखिर पक्षियों की मौत हुई कैसे। फिलहाल, बर्ड फ्लू की आशंका के चलते हमने एसडीएम को अलर्ट कर दिया है। पौंग झील के किनारे एक किलोमीटर तक के एरिया को मानव गतिविधियों के लिए प्रतिबंधित किया गया है।

झील के आसपास करीब 11 किलोमीटर के एरिया को निगरानी में रखा जा रहा है। पौंग झील में अभी तक 1177 प्रवासी पक्षियों की मौत की पुष्टि हुई है। बारिश की वजह से रविवार को मृतक पक्षियों की गणना नहीं की जा सकी। उधर, बर्ड फ्लू की आशंका के चलते झील के आसपास के इलाके के लोग नॉनवेज खाने से भी परहेज करने लगे हैं।

Please Share this news:
error: Content is protected !!