बेटी से छेड़छाड़ और झगड़े का अपमान सह नहीं पाया ऑटो ड्राइवर, पत्नी और बच्चों के साथ लगा ली फांसी

बेटी से दुर्व्यवहार और अपने पड़ोसी के साथ लड़ाई के बाद एक ऑटो ड्राइवर और उसके परिवार के सभी लोग मृत पाए गए. राचकोंडा पुलिस आयुक्तालय के केसरा थाना क्षेत्र के पश्चिम गांधी नगर स्थित अपने आवास पर आज शुक्रवार को ऑटोरिक्शा चालक पी. भिक्षापति, उनकी पत्नी, उनका बेटा और बेटी फांसी पर लटके पाए गए. माना जाता है कि भिक्षापति और उनके परिवार ने कथित तौर पर अपमान सहने में विफल रहने के बाद ये कदम उठाया.

पड़ोसी ओ. रमेश उनकी बेटी के साथ छेड़छाड़ करता था और विरोध करने पर दुर्व्यवहार किया. इसके बाद भिक्षापति को गुरुवार रात उसने पीटा और ऑटो को क्षतिग्रस्त कर दिया. पुलिस ने शवों को पोस्टमार्टम के लिए सरकारी उस्मानिया अस्पताल भेज दिया है. आत्महत्या के लिए जिम्मेदार लोगों की गिरफ्तारी की मांग करते हुए परिवार के रिश्तेदारों ने पुलिस को शव को ले जाने से रोकने की कोशिश की.

पुलिस ने संदिग्ध परिस्थितियों में मौत का मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है. पुलिस ने कथित तौर पर भिक्षापति द्वारा लिखा गया एक सुसाइड नोट भी बरामद किया है. पुलिस निरीक्षक जे. नरेंद्र गौड़ ने कहा कि घटनास्थल से सुराग जुटाए गए हैं और जांच जारी है. पुलिस मृतक के परिजनों के बयान दर्ज कर रही थी. यादाद्री भुवनागिरी जिले के रहने वाले भिक्षापति हाल ही में मेडचल जिले में चले गए थे और जीविकोपार्जन के लिए ऑटोरिक्शा चला रहे थे. (IANS इनपुट्स)


Please Share this news:
error: Content is protected !!