भारत में कोरोना महामारी के बीच अमेरिका ने भेजी मदद, ऑक्सीजन सिलेंडर लेकर निकले दो विमान

देश में कोरोना महामारी के बीच कई देशों की तरफ से मदद की जा रही है। वहीं अब बढ़ती महामारी के बीच अमेरिका की वायुसेना का विमान C-5M सुपरगैलेक्सी और C-17 ग्लोबमास्टर III भारत के लिए निकल लिए हैं। ये ऑक्सीजन सिलेंडर/रेग्युलेटर, रैपिड डायग्नोस्टिक किट, N95 मास्क और पल्स ऑग्जीमीटर लेकर आ रहे हैं। सूत्रों ने बुधवार को बताया था कि भारत ने अमेरिका से मेडिकल आपूर्ति मांगी है जिनमें वैक्सीन की तैयार खुराकों के साथ-साथ कच्चा माल भी शामिल है।बताया गया है कि मेडिकल आपूर्ति लेकर एक अमेरिकी विमान के शुक्रवार को यहां पहुंचने की संभावना है जबकि रूसी विमान के बृहस्पतिवार रात तक पहुंचने की उम्मीद है। भारत अमेरिका और अन्य देशों से रेमडेसिविर, टोसिलिज़ुमैब और फेवीपिरवीर जैसी अहम दवाओं की खरीद पर ध्यान केंद्रित कर रहा है।

इससे पहले चीन के विदेश मंत्री वांग यी ने बृहस्पतिवार को वादा किया कि कोविड-19 के खिलाफ जंग में उनका देश भारत की हरसंभव मदद करेगा और कहा कि चीन में बनी महामारी रोधी सामग्री ज्यादा तेज गति से भारत पहुंचाई जा रही हैं। विदेश मंत्री एस जयशंकर को लिखे पत्र में वांग ने कहा चीनी पक्ष, ‘‘भारत जिन चुनौतियों का सामना कर रहा है, उनके प्रति संवेदना रखता है और गहरी सहानुभूति प्रकट करता है।’’

भारत में चीन के राजदूत सुन वेइदोंग ने इस पत्र को ट्विटर पर साझा किया जिसमें लिखा है, ‘‘ कोरोना वायरस मानवता का साझा दुश्मन है और अंतरराष्ट्रीय समुदाय को एकजुट और समन्वयित होकर इसका मुकाबला करने की जरूरत है। चीनी पक्ष भारत सरकार और वहां के लोगों का, महामारी से लड़ाई में समर्थन करता है।’’ वांग ने कहा कि चीन में उत्पादित महामारी रोधी वस्तुएं तेजी से भारत में पहुंचाई जा रही हैं ताकि भारत की इस महामारी में मदद की जा सके।

error: Content is protected !!