उत्तर भारत के आसमान में दिखी रहस्यमयी रोशनी की कतार लोगों के लिए बनी पहेली

उत्तर भारतीय राज्यों में शुक्रवार को आसमान में एक रहस्यमयी रोशनी देखने को मिली. बताया जा रहा है कि ये रोशनी पंजाब समेत कई राज्यों में दिखाई दी. वहीं रक्षा सूत्रों ने बताया है कि ये रोशनी सैटेलाइट थी. हालांकि इससे पहले मीडिया रिपोर्ट में कहा गया था कि यह एलोन मस्क के नेतृत्व वाले ‘स्टारलिंक’ उपग्रह हैं.

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक पंजाब के पठानकोट में भी शुक्रवार को आसमान में रहस्यमयी रोशनी देखी गई, जिससे स्थानीय लोग स्तब्ध रह गए. स्थानीय लोगों ने दावा किया कि रोशनी शाम करीब 6:50 बजे पांच मिनट तक देखी गई. वीडियो में कुछ रहस्यमयी रोशनी को एक सीधी रेखा में देखा जा सकता है.

वहीं आसमान में चमकती रोशनी देखने के बाद लोग लगातार ट्विटर पर अपना अनुभव शेयर कर रहे हैं. इसका वीडियो भी सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है. लोगों ने बताया कि ये ऐसा लग रहा था मानों कुछ दूरी से ट्रेन जा रही हो. कई लोगों ने इस रोशनी को रॉकेट भी समझ लिया.

जम्मू-कश्मीर में भी देखी गई रोशनी

पंजाब के अलावा जम्मू-कश्मीर में भी इस रोशनी को देखा गया. बताया जा रहा है कि जम्मू-कश्मीर में जम्मू, सांबा, कठुआ, ऊधमपुर, राजौरी और पुंछ जैसे जिलों में लोगों ने इस नजारे को देखा और अपने कैमरों में कैद कर लिया.

गुजरात में भी देखी गई थी इस तरह की रोशनी

यह पहली बार नहीं है जब इस तरह की रहस्यमयी रोशनी आसमान में देखी गई है. इससे पहले इस साल जून में, गुजरात के जूनागढ़, उपलेटा और सौराष्ट्र के आस-पास के क्षेत्रों में रात के आसमान में रहस्यमयी रोशनी टिमटिमाती हुई देखी गई थी. जिसके बाद यूएफओ की अटकलें तेज हो गई थीं.

उस दौरान गुजरात काउंसिल ऑफ साइंस एंड टेक्नोलॉजी (GUJCOST) के सलाहकार नरोत्तम साहू ने यूएफओ होने की बात को खारिज कर दिया था. उन्होंने कहा था कि हो सकता है कि किसी उपग्रह के लो अर्थ ऑर्बिट से गुजरने के कारण ये रोशनी दिखाई दी हों.

Please Share this news:
error: Content is protected !!