वसूली पकड़े जाने पर जेई से कर्मचारी ने की हाथापाई, दस्तावेज फाड़े

गाजियाबाद। अवैध वसूली की पोल खुलने पर बिजली निगम के चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी ने मेरठ रोड स्थित बिजलीघर पर तैनात जेई के साथ हाथापाई कर दी।

इतना ही नहीं आरोपी कर्मचारी ने गाली गलौज करते हुए सरकारी दस्तावेज भी फाड़ दिए। जेई की सूचना पर पुलिस ने मौके पर पहुंचकर आरोपी कर्मचारी को गिरफ्तार कर लिया। जेई की तहरीर पर सिहानी गेट पुलिस ने कर्मचारी के खिलाफ विभिन्न धाराओं में केस दर्ज किया है।


मेरठ रोड पर स्थित बिजली घर में विनीत कुमार जेई हैं। वहीं पर चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी नरेश की भी तैनाती है। जेई के मुताबिक सराय नजर अली निवासी उपभोक्ता गब्बू सिंह ने आकर नरेश की शिकायत की थीम उसने बताया था कि 55 हजार रुपये लेकर नरेश ने बिजली के 9 खंभे उसके यहां डलवा दिए लेकिन रकम की रसीद नहीं दी।

उपभोक्ता उनके पास रसीद मांगने आया तो उन्हें कर्मचारी के कारनामे का पता चला। जेई का कहना है कि उन्होंने उपभोक्ता के मोबाइल से नरेश को फोन किया तो उसने गाली-गलौज शुरू कर दी।

जेई का कहना है कि कर्मचारी थोड़ी देर बाद ही बिजली घर आ गया और हंगामा शुरू कर दिया। उसने उनके साथ हाथापाई करते हुए सरकारी दस्तावेज फाड़ दिए और अपना सिर दीवार में मार कर खुद को लहूलुहान कर लिया।

जेई का कहना है कि स्टाफ के अन्य लोगों ने आरोपी कर्मचारी नरेश को समझाने की कोशिश की तो उसने उनके साथ भी अभद्रता करते हुए एससी-एसटी एक्ट के मुकदमे में जेल भिजवाने की धमकी दे डाली।

जेई ने सूचना देकर पुलिस मौके पर बुला ली, जिसके बाद आरोपी कर्मचारी को हिरासत में ले लिया गया। एसएचओ सिहानी गेट कृष्ण गोपाल शर्मा का कहना है कि कर्मचारी के खिलाफ केस दर्ज करते हुए आगामी कार्रवाई की जा रही है।

error: Content is protected !!