46 वर्षीय व्यक्ति की बोट का इंजन ठीक करते वक्त पंखे की चपेट में आने से मौत

मंडी: सोमवार दोपहर एक दर्दनाक हादसे में एक 46 वर्षीय व्यक्ति के द्वारा पहने गए मफलर के इंजन के पंखे की चपेट में आने से दर्दनाक मौत हो गई। मृतक रूपलाल क्षेत्र के बटवाड़ा का रहने वाला था और बोट को ठीक करने का कार्य करता था। मामले में घटना की सूचना मिलते ही पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर जांच शुरू कर दी है। शव का पोस्टमार्टम सिविल अस्पताल सुंदरनगर में करवा परिजनों के हवाले कर दिया है। जानकारी के अनुसार सुंदरनगर उपमंडल की ग्राम पंचायत ध्वाल के एक व्यक्ति सुखराम ने पुलिस को सूचना दी कि ऐहन बोट घाट पर एक व्यक्ति मृत अवस्था में पड़ा है।

इस पर पुलिस टीम मौके पर पहुंची तो मृतक व्यक्ति के परिजन भी मौके पर मौजूद थे। मृतक रूप लाल बोट ठीक करने का कार्य करता था। इसी दौरान जब सोलन जिला के बोई का एक नाविक व्यक्ति रूप लाल के पास आया और उसने वोट के इंजन में खराबी होने के बारे में बताया। इस पर मृतक द्वारा उसकी बोट की रिपेयर की और जब रूप लाल बोट के इंजन पर लगे हुए सुरक्षा कवच को खोल कर चेक कर रहा था।

इसी दौरान उसके गले में बंधा मफलर इंजन की चपेट में आ गया। उसके घूम रहे पंखे के साथ घूम गया। इससे मृतक को धक्का लगने के कारण उसका पूरा शरीर इंजन में जाकर फंस गया। जिस कारण मृतक के सिर पर गहरी चोट लगने के कारण उसकी मौके पर मौत हो गई। मामले की पुष्टि करते हुए डीएसपी सुंदरनगर गुरबचन सिंह ने बताया कि परिजनों ने किसी भी प्रकार का कोई शक जाहिर नहीं किया है। पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम करवा परिजनों के हवाले कर दिया है। उन्होंने कहा कि मामले में पुलिस ने सीआरपीसी की धारा 174 के तहत मामला दर्ज कर आगामी कार्रवाई शुरू कर दी है।

Please Share this news:
error: Content is protected !!