नाबालिग की मदद से 3 लोगों को जला कर मार डाला; एक थप्पड़ का प्रतिशोध

मुंबई में एक युवक ने अपने नाबालिग साथी के साथ थप्पड़ मारने वाले शख्स के साथ ऐसा बर्ताव किया कि सोचकर रूह कांप जाएगी। उसने कथित तौर पर सांई मंदिर में पेट्रोल छिड़क आग लगा दी जिसकी चपेट में आने से मंदिर में सो रहे तीन लोगों की मौत हो गई। पहले पुलिस इसे शॉर्ट सर्किट से हुई दुर्घटना मान रही थी।

मामला मुंबई पश्चिमी उपनगर में कांदिवली के चारकोप इलाके में बंदरपाखाड़ी रोड का है। जहां रविवार को तड़के मंदिर में आग लगने से सुभाष खोड़े, युवराज पवार और मन्नू राधेश्याम गुप्ता की मौत हो गई। खोड़े और पवार की मौके पर ही मौत हो गई थी जबकि मन्नू ने शताब्दी अस्पताल में दम तोड़ दिया था। 

पुलिस के अनुसार तड़के आग लगने से मंदिर में सो रहे तीनों लोग बाहर नहीं निकल पाए। पुलिस ने बताया कि खुफिया सूचना के आधार पर पड़ताल की गई तो पता चला कि युवराज पवार ने दो दिन पहले एक 20 वर्षीय युवक को थप्पड़ मार दिया था। उसने इसका बदला लेने के लिए उसकी हत्या की योजना बनाई थी। 

पुलिस उपायुक्त विशाल ठाकुर ने बताया कि आरोपी ने अपनी एक्टिवा से 5 लीटर पेट्रोल निकाला।तड़के उसने एक नाबालिग की मदद से मंदिर में पेट्रोल छिड़ककर आग लगा दी। पुलिस ने घटना के 24 घंटे के भीतर दोनों आरोपियों को गिरफ्तार कर आईपीसी की धारा 302, 436 और 34 के तहत मामला दर्ज किया है।

Please Share this news:
error: Content is protected !!