Dalit Atrocities: दिल्ली में काम करने गई 13 वर्षीय दलित लड़की की बलात्कार के बाद हत्या, पोस्टमार्टम में हुआ खुलासा

नई दिल्ली. पश्चिमी दिल्ली (West Delhi) में एक 13 वर्षीय दलित लड़की (Dalit Girl) के साथ उसके मकान मालिक के एक रिश्तेदार ने कथित तौर पर बलात्कार किया और उसकी हत्या (Raped And Murdered) कर दी.

यह जानकारी पीड़िता के माता-पिता और पुलिस द्वारा दर्ज प्राथमिकी से प्राप्त हुई है. इंडियन एक्सप्रेस में प्रकाशित रिपोर्ट के अनुसार, मकान मालिक के आरोपी रिश्तेदार को गिरफ्तार कर लिया गया है और पुलिस मामले में मकान मालिक एवं उसकी पत्नी की कथित संलिप्तता की जांच कर रही है. पीड़िता के दिहाड़ी मजदूर पिता ने कहा कि पिछले महीने मकान मालिक के कहने पर बेटी को आरोपी प्रवीण (Accused Praveen) के गुड़गांव स्थित उसके घर पर काम करने भेजा था. मृतका के पिता के अनुसार, आरोपी ने दावा किया कि लड़की की बीमारी के कारण मृत्यु हुई और उन पर लड़की के अंतिम संस्कार का दबाव डाला था. पड़ोसियों के हस्तक्षेप और उनकी सलाह पर उसने पुलिस को कॉल किया था. पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट में बच्ची के चेहरे और प्राइवेट पार्ट पर गंभीर चोटें होने की बात सामने आई. रिपोर्ट में रेप की भी पुष्टि हुई.

पिता की ओर से दर्ज करायी गयी प्राथमिकी के अनुसार, उसकी मकान मालिकन ने मुझे बताया था कि उसके भाई की एक छोटी बेटी है और मेरी बेटी उसके साथ वह खेल सकती है. और कुछ समय परिवार के साथ रह सकती है. मकान मालिकन उसे 17 जुलाई को ले गई थी. उन्होंने कहा कि 23 अगस्त की दोपहर करीब 3 बजे उन्हें मकान मालिक का फोन आया कि उनकी बेटी की मौत फूड प्वाइजनिंग से हुई है. चार घंटे बाद, आरोपी प्रवीण, मकान मालिकन और दो अन्य लोग लड़की के शव को एक निजी एम्बुलेंस में दिल्ली लेकर आए.

सभी जख्म मरने से पहले के थे
प्राथमिकी में कहा गया है कि लड़की के पिता को अपनी बेटी का अंतिम संस्कार करने के लिए कहा गया था. पिता ने कहा कि वह बेटी का दाह संस्कार करने के लिए तैयार थे, लेकिन पड़ोसियों ने दाह संस्कार रोककर पहले बेटी के शव को देखने को बोला. जब शव को देखा गया तो सभी दंग रह गए. उनकी बेटी के चेहरे और पीठ पर चोट के निशान थे. पिता ने कहा, “हमें नहीं पता था कि वे उसे मार डालेंगे. हम डर गए और पुलिस को फोन किया. बाबू जगजीवन राम अस्पताल के डॉक्टरों ने पोस्टमार्टम रिपोर्ट में कहा है कि लड़की की मौत मैनुअली दम घोंटने के कारण हुई है. रिपोर्ट में योनि और गुदा यौन उत्पीड़न के सकारात्मक सबूत होने की बात भी कही गयी है और सभी जख्म मरने से पहले के हैं.

error: Content is protected !!