सहेली ने लड़की धर्मान्धों को सौंपी, उन्होंने अपहरण कर किया सामूहिक बलात्कार

जनपद के चकिया पुलिस थाना क्षेत्र में, धर्मांधों ने 10वीं कक्षा की एक छात्रा का अपहरण कर उसके साथ सामूहिक बलात्कार किया । उसके लिए, पीडिता की सहेली ने आरोपियों की सहायता की । इस प्रकरण में मोहम्मद अर्शद, अर्शद अली और तबस्सुम खातून के विरुद्ध पुलिस की ओर से प्राथमिकी पंजीकृत की गई है ।

पीडिता की मां के द्वारा बताए अनुसार, 15 अगस्त की रात को जब पीडिता अपने घर में सोई थी, तब रात 11 बजे आरोपियों ने उसका अपहरण किया और उसके उपरांत उसे एक वाटिका में ले जाकर उसके साथ सामूहिक बलात्कार किया । जब युवती को ढूंढने हेतु उसके पिता वाटिका की दिशा में गए, तब आरोपी वहां से भाग गए । पीडिता की मां ने यह आरोप लगाया, कि इस काम के लिए पीडित युवती की सहेली तबस्सुम खातून ने युवती को आरोपियों को सौंपा । पीडिता ने भी स्वयं इसकी पुष्टि की है । माध्यमों द्वारा दी गई जानकारी के अनुसार, धर्मांधों ने पीडिता को उठाकर ले जाने की अनेक बार धमकियां दी थीं ।

error: Content is protected !!