भारत दुनिया में सबसे तेजी से टीकाकरण करने वाले देशों की सूची में अमेरिका को पछाड़ कर शीर्ष पर आ गया है। कोरोना वायरस के खिलाफ टीकाकरण अभियान के 85वें दिन शनिवार को भारत ने यह मुकाम हासिल किया। इतने टीके लगाने में अमेरिका को 89 और चीन को 102 दिन लगे थे। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने यह जानकारी दी।

स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक, देश में हररोज लगाए जाने वाले टीकों के मामले में भी भारत शीर्ष पर बना हुआ है। भारत में प्रतिदिन औसतन 38,93,288 टीके लगाए जा रहे हैं। वहीं दूसरे नंबर पर अमेरिका है, जहां वैक्सीन की रोजाना औसतन 30 करोड़ डोज दी जा रही है। मंत्रालय ने बताया कि अमेरिका में 85 दिनों में 9.2 करोड़ लोगों को कोरोना का टीका लगाया गया। जबकि इतने ही दिनों में चीन में 6.14 करोड़ और ब्रिटेन में 2.13 करोड़ वैक्सीन की डोज ही लाभार्थियों को दी गई थीं।

भारत में हो रहा सबसे तेज टीकाकरण
प्रधानमंत्री कार्यालय ने एक चार्ट ट्वीट किया। इसमें भारत को सबसे तेज गति से 10 करोड़ टीका लगाने वाले देश के रूप में दिखाया गया है। साथ ही कहा गया कि यह भारत को स्वस्थ और कोरोना मुक्त बनाने के लिए किए जा रहे प्रयासों को मजबूत कर रहा है।

इन राज्यों में लगे 60 फीसदी से ज्यादा टीके

स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से जारी आंकड़ों के मुताबिक, अब तक 45 साल से अधिक उम्र के लगभग छह करोड़ लोगों को टीका लगाया जा चुका है। अब तक लगाए गए टीकों में से 60.62 फीसद टीके केवल आठ राज्य- महाराष्ट्र, राजस्थान, गुजरात, उत्तर प्रदेश, बंगाल, कर्नाटक, मध्य प्रदेश और केरल में ही लगाए गए हैं। 

बता दें कि देश में कोरोना वायरस के खिलाफ दुनिया का सबसे बड़ा टीकाकरण अभियान 16 जनवरी को शुरू हुआ था। पहले चरण में स्वास्थ्यकर्मियों समेत फ्रंटलाइन कार्यकर्ताओं को वैक्सीन लगानी शुरू की। एक मार्च से 60 साल से अधिक और 45-59 साल के गंभीर रोगों से ग्रस्त लोगों को टीका लगाया जाने लगा। इस अभियान में असल तेजी एक अप्रैल के बाद आई, जब 45 साल से अधिक उम्र के सभी लोगों को इसमें शामिल किया गया।

पीएम मोदी ने की ‘टीका उत्सव’ मनाने की अपील
बीते दिनों प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मुख्यमंत्रियों के साथ बैठक में देशवासियों से 11-14 अप्रैल के बीच ‘टीका उत्सव’ मनाने की अपील की थी। प्रधानमंत्री मोदी ने कहा था कि 11 अप्रैल को ज्योतिबा फुले जी की जन्म जयंती है और 14 अप्रैल को बाबा साहेब की जन्म जयंती है, इस बीच हम सभी टीका उत्सव मनाएं। पीएम मोदी ने कहा था कि हमारी कोशिश होनी चाहिए कि इस टीका उत्सव में हम ज्यादा से ज्यादा लोगों का टीकाकरण किया जा सके।

error: Content is protected !!