सोने-चांदी पर घटा आयत शुल्क, गिरेंगी सोना चांदी की कीमतें

सरकार द्वारा पेश किये गए बजट के बाद सोने -चांदी के आयत शुल्क घटते नजर आ रहे है।भारतीय बाजारों में आज लगातार दूसरे दिन सोने की वायदा कीमत में भारी गिरावट आई है। एमसीएक्स पर सोना वायदा 0.6 फीसदी गिरकर 48,438 रुपये प्रति 10 ग्राम हो गया। हालिया उछाल के बाद मुनाफावसूली से चांदी वायदा 2.2 फीसदी लुढ़ककर 72,009 रुपये प्रति किलोग्राम पर आ गई। सोने की कीमतें पिछले सत्र में 1.2 फीसदी यानी 627 रुपये प्रति 10 ग्राम की गिरावट आई थी, जबकि चांदी की वायदा कीमत छह फीसदी यानी 4238 रुपये प्रति किलोग्राम बढ़ी थी। इस कदम से घरेलू बाजार में इन मूल्यवान धातुओं की कीमतों को नीचे लाने में मदद मिलेगी तथा रत्न एवं आभूषण निर्यात को बढ़ावा मिलेगा। वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने 2021-22 का बजट पेश करते हुए कहा कि, ‘वर्तमान में सोना और चांदी पर 12.5 फीसदी सीमा शुल्क लगाया जाता है। चूंकि, जुलाई 2019 में शुल्क 10 फीसदी से बढ़ा दिया गया था, इसलिए कीमती धातुओं के मूल्य में तेजी से वृद्धि हुई, इसे पिछले स्तर के करीब लाने के लिए हम सोना और चांदी पर सीमा शुल्क को युक्तिसंगत बना रहे हैं।’ सीमा शुल्क कम कर 7.5 फीसदी किया गया है। इसके अलावा सोने की मिश्र धातु (गोल्ड डोर बार) पर शुल्क 11.85 फीसदी से घटाकर 6.9 फीसदी और चांदी की मिश्र धातु (सिल्वर डोर बार) पर 11 फीसदी से कम कर 6.1 फीसदी किया गया है। प्लैटिनम पर शुल्क 12.5 फीसदी से कम कर 10 फीसदी, सोना व चांदी के फाइंडिंग्स पर 20 फीसदी से घटाकर 10 फीसदी और मूल्यवान धातु के सिक्कों पर 12.5 फीसदी से कम कर 10 फीसदी किया गया है। हालांकि, सोना और चांदी, सोने के मिश्र धातु, चांदी के मिश्र धातु पर 2.5 फीसदी कृषि बुनियादी ढांचा और विकास उपकर लगेगा। 

Other Trending News and Topics:
error: Content is protected !!