वन विभाग ने चुनावी दौर मे अवैध कच्ची शराब बनाने वालों पर शिकंजा कसते हुए शराब माफिया के खिलाफ बड़ी कार्रवाई की है। टीम ने बड़ी मात्रा मे अवैध कच्ची लाहण बरामद कर नष्ट की है। संभावना यह भी जताई जा रही है कि माफिया पंचायत व निकाय चुनाव के चलते सक्रिय थे और संभवतः इसकी सप्लाई चुनाव के दौरान मतदाता को लुभाने के लिए भी की जा सकती थी। लेकिन इससे पहले ही वन विभाग ने माफिया के मंसूबों पर पानी फेरते हुए इसे नष्ट कर दिया है।

जानकारी के मुताबिक गुप्त सूचना के आधार पर पांवटा वन विभाग की टीम ने खारा वन क्षेत्र के अंतर्गत लाई व कुकड़ों के जंगल में रविवार को कच्ची शराब बनाने की 8 भट्टियां को तहस-नहस कर दिया। वन विभाग की टीम ने लगभग 17 ड्रमों में रखी 2050 लीटर लाहण को भी नष्ट कर दिया। डीएफओ पांवटा साहिब कुनाल अंग्रीश ने बताया कि सूचना के बाद एक टीम गठित की थी। टीम ने खारा वन क्षेत्र के जंगल में कच्ची शराब बनाने की 8 भट्टियां को तहस-नहस कर दिया।

खारा के जंगल में अवैध शराब बना रहे लोगों में भी दहशत मच गई। हालांकि इस दौरान माफिया पहले ही फरार हो चुके थे। इस कार्यवाही में वनरक्षक रणवीर, अनील, रतन, वनकर्मी हरिचंद व बलवीर आदि शामिल थे जिन्होंने खारा जंगल में जाकर 8 भट्टियों के उपर 17  ड्रमों मे रखी 2050 लीटर लाहण को नष्ट किया। उन्होंने कहा की विभाग की ऐसी कार्यवाई भविष्य मे भी जारी रहेगी

error: Content is protected !!