Right News

We Know, You Deserve the Truth…

सीएम जयराम ने दिए संकेत, अगर स्थिति न संभली तो पूर्ण लॉकडाऊन पर भी होगा विचार

अभी प्रयोग के तौर पर कोरोना कफ्र्यू लगाया है यदि इसी तरह केस और बढ़ते रहे तो 10 दिनों के कर्फ्यू के बाद रिव्यू मीटिंग कर पूर्ण लॉकडाऊन लगाने पर भी विचार किया जा सकता है। उन्होंने कहा कि सरकार की प्राथमिकता लोगों की जान बचाना है। सारे जिलों की ग्राऊंड रिपोर्ट लेकर आए मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने पंजाब केसरी से विशेष बातचीत में कहा कि सरकार ने सारे हालात को देखते हुए यह कदम उठाया है। उन्होंने कहा कि पिछले वायरस और अब के वायरस में काफी अंतर है यह पहले से ज्यादा प्रभावी है।

सरकार ज्यादा सख्ती के पक्ष में नहीं
मुख्यमंत्री ने कहा कि सरकार अभी ज्यादा सख्ती के पक्ष में नहीं है क्योंकि लॉकडाऊन से आम आदमी का जनजीवन काफी प्रभावित होता है। इसलिए लोग भी अपनी जिम्मेदारी समझें। अनवाश्यक बाहर न निकलें। उन्होंने कहा कि हमने संतुलन बनाने की बात की है ताकि जिंदगी भी बचे और किसी गरीब की रोजी-रोटी भी न छीने और उन्हें कोई दिक्कत न हो। मजदूर का काम चलता रहे इसका पूरा ध्यान रखा गया है। उन्होंने कहा कि पिछले वर्ष कोरोना की वजह से प्रदेश में विकासात्मक कार्य काफी प्रभावित हुए थे, लेकिन इस बात का विशेष ध्यान रखा गया है कि प्रदेश में विकास कार्य जारी रहें किसी भी कीमत पर हर मजदूर को काम भी मिले।

सब ठीक होते ही टूरिज्म पर ध्यान
मुख्यमंत्री ने कहा कि जैसे ही प्रदेश में कोरोना की स्थिति पर कुछ काबू हो जाए तो हमारी सरकार टूरिज्म सैक्टर पर पूरा ध्यान देगी, उन्हें राहत देने के बारे में भी विचार किया जा रहा है। प्रदेश के हजारों परिवार टूरिज्म क्षेत्र से जुड़े हैं और यह सभी कोरोना काल में प्रभावित हुए हैं। इसके लिए सरकार द्वारा जल्द ही एक योजना बनाकर कार्य किया जाएगा। प्रदेश की आर्थिकी टूरिज्म पर टिकी है इसको देखते हुए सरकार ने टूरिस्ट को प्रदेश में आने से रोका नहीं, लेकिन स्थितियां ऐसी बन गईं कि अन्य राज्यों में कोरोना भयंकर तरीके से फैला और टूरिस्ट स्वयं ही रुक गया, लेकिन उसे फिर से पुन: जीवित किया जाएगा।

जल्द चालू होंगे 6 और ऑक्सीजन प्लांट
मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने कहा कि राज्य सरकार ने प्रदेश में ऑक्सीजन सिलैंडरों की कमी को पूरा करने के लिए केंद्र सरकार से अतिरिक्त ऑक्सीजन सिलैंडर प्रदान करने का आग्रह किया है। केंद्र सरकार द्वारा प्रदेश के लिए 6 और ऑक्सीजन प्लांट दिए हैं, जिन्हें जल्द चालू किया जाएगा। इसके अलावा पीएसए ऑक्सीजन प्लांट को स्थापित करने के कार्य में तेजी लाने के प्रयास किए जाएंगे।

आपदा के समय तो राजनीति मत करो
मुख्यमंत्री ने प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कुलदीप सिंह राठौर को नसीहत दी है कि आपदा के समय उनको राजनीति नहीं करनी चाहिए। उन्होंने कहा कि सर्वदलीय बैठक में नेता प्रतिपक्ष मुकेश अग्रिहोत्री सहित विपक्ष के अन्य सदस्यों को विश्वास में लिया गया है, लेकिन कांग्रेस अध्यक्ष राजनीति कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि संपूर्ण लॉकडाऊन लगाने से प्रदेश की आर्थिकी के अलावा गरीब एवं मध्यम वर्ग को भारी नुक्सान होता है। इसे देखते हुए आज की स्थिति में संपूर्ण लॉकडाऊन लगाना न्यायोचित नहीं है।

शुक्रवार सुबह लागू होगा कोरोना कर्फ्यू
जयराम ठाकुर ने कहा कि प्रदेश में शुक्रवार सुबह 6 बजे से कोरोना कर्फ्यू लागू हो जाएगा। उन्होंने उम्मीद जताई कि इससे प्रदेश में कोरोना की चेन तोडऩे में सफलता मिलेगी। उन्होंने कहा कि कोरोना की दूसरी लहर में संक्रमण 3 दिन के भीतर व्यक्ति को अपनी चपेट में ले रहा है। ऐसे में नौजवानों की मृत्यु हो रही है। उन्होंने कोरोना के लक्षण सामने आने पर लोगों को तुरंत चिकित्सकों की राय लेने की सलाह दी।

निजी ऑप्रेटर की मांगों पर फैसला जल्द
निजी ऑप्रेटर की हड़ताल पर जयराम ठाकुर ने कहा कि इस विषय को लेकर अधिकारियों से उनकी बात हुई और निजी ऑप्रेटरों से भी बातचीत चल रही है। सरकार ने उनकी बात को सुना है, जल्द ही इस पर कोई अहम फैसला लिया जाएगा।

सबको राहत देना भी मुश्किल
जयराम ठाकुर ने माना कि प्रदेश की रीढ़ टूरिज्म सैक्टर कोरोना काल में काफी प्रभावित हुआ है। उन्होंने कहा कि कुल मिलाकर हम पहले कोरोना से निपटना चाहते हैं। सरकार हर कीमत पर लोगों की जान बचाना चाहती है। आज की परिस्थिति ऐसी नहीं सबको राहत दे सकें। उन्होंने कहा कि नुक्सान हुआ है, बहुत हुआ है और उसकी भरपाई करना मुश्किल है। सरकार लोगों को बेहतरीन उपचार दे सके, इस पर कार्य जारी है।

error: Content is protected !!