जो पंचायत टीसीपी में शामिल नहीं होना चाहिए, उन्हें बाहर करने की करेंगे सिफारिशः महेंद्र सिंह ठाकुर

Read Time:9 Minute, 30 Second

Himachal News: जल शक्ति, राजस्व, सैनिक कल्याण तथा बागवानी मंत्री महेंद्र सिंह ठाकुर ने कहा है कि जो पंचायतें टीसीपी में शामिल नहीं होना चाहती, उन्हें इसके दायरे से बाहर करने के लिए सिफारिश की जाएगी। महेंद्र सिंह ठाकुर ने टीसीपी से संबंधित जन शिकायतों की गगरेट विस क्षेत्र के तहत अंदौरा, मुबारिकपुर व कलोह में की सुनवाई के दौरान यह बात कही। उन्होंने कहा कि भाजपा ने अपने संकल्पपत्र में वादा किया था, कि जो पंचायतें टीसीपी का विरोध कर रही हैं, उन्हें बाहर किया जाएगा। इसलिए मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर ने टीसीपी से संबंधित जन समस्याओं का निपटारा करने के लिए मंत्रिपरिषद की सब-कमेटी गठित की, जिसका उन्हें अध्यक्ष बनाया गया है।

उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री गरीब परिवार से संबंध रखते हैं, इसलिए गरीब के दर्द से भलीभांति परिचित हैं तथा उन्हीं के निर्देश पर वह आज गगरेट विधानसभा क्षेत्र आए हैं। मौजूदा सरकार आम आदमी की सरकार है, जो आम आदमी के हित के लिए कार्य कर रही है। जलशक्ति मंत्री महेंद्र सिंह ठाकुर ने कहा कि कोरोना संकट के चलते उन्हें आने में देरी हुई है। उन्होंने कहा कि कोरोना के बीच भी मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर के नेतृत्व में प्रदेश सरकार विकास को प्रभावित नहीं होने दे रही है। आज करोड़ों रुपए की परियोजनाएं पूरे राज्य में धरातल पर उतारी जा रही हैं। जल जीवन मिशन के तहत वर्ष 2019 व 2020 में हिमाचल प्रदेश पूरे देश में पहले पायदान पर रहा है। इस वर्ष भी सबसे अधिक 1405 करोड़ की धनराशि प्राप्त करने वाला हिमाचल प्रदेश देश का पहला राज्य बना है।

विधायक राजेश ठाकुर व बलबीर सिंह की तारीफ की

अपने संबोधन में जल शक्ति मंत्री महेंद्र सिंह ठाकुर ने गगरेट के विधायक राजेश ठाकुर व चिंतपूर्णी के विधायक बलबीर सिंह की जम कर तारीफ की। उन्होंने कहा कि दोनों ही विधायक अपने-अपने क्षेत्र के विकास के लिए चिंतित रहते हैं। उन्होंने कहा कि स्वां में मिलने वाली छोटी-छोटी खड्डों की चैनलाइजेशन के लिए 340 करोड़ रुपए की योजना केंद्र सरकार को स्वीकृति के लिए भेजी है, जिससे गगरेट विस क्षेत्र को बहुत लाभ होगा। उन्होंने कहा कि जल जीवन मिशन के तहत गगरेट में 100 करोड़ रुपए से अधिक कीधनराशि खर्च हो रही है। इतनी योजनाएं गगरेट में लाने का श्रेय विधायक राजेश ठाकुर की कड़ी मेहनत को जाता है।

महेंद्र सिंह ठाकुर ने कहा कि चिंतपूर्णी विस क्षेत्र में भी 8 पेयजल योजनाओं के लिए 55.72 करोड़ तथा सिंचाई एवं सीवरेज स्कीमों के लिए 60 करोड़ रुपए की धनराशि का प्रबंध किया गया है, जिसके लिए विधायक बलबीर सिंह ने भरसक प्रयास किए। जल शक्ति मंत्री ने कहा कि लोहारली-चुरूड़ू पुल के निर्माण तथा अंदौरा में साईंस कक्षाएं शुरू करने के लिए मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर से सिफारिश करेंगे। उन्होंने कहा कि पुल के जल्द से जल्द निर्माण के लिए मुख्यमंत्री से आग्रह किया जाएगा। महेंद्र सिंह ने कहा कि गगरेट विस क्षेत्र में ट्यूबवैल निकालने के दो रिग जल्द ही कार्य आंरभ कर देंगी।

तीसरी लहर में बच्चों को बचाएं

जलशक्ति मंत्री महेंद्र सिंह ठाकुर ने कहा कि कोरोना अभी खत्म नहीं हुआ है तथा विशेषज्ञ अभी तीसरी लहर की आशंका जता रहे हैं। जिसमें सबसे ज्यादा छोटे-छोटे बच्चे प्रभावित होने के अनुमान लगाया जा रहा है। इसलिए सभी अपने बच्चों का ध्यान रखें और सभी अपना टीकाकरण कराएं।

कांग्रेस लाई काला कानूनः राजेश ठाकुर

गगरेट के विधायक राजेश ठाकुर ने कहा कि पूर्व कांग्रेस सरकार टीसीपी का काला कानून लेकर आई है, जिससे लोगों को समस्या पेश आ रही है। अगर कोरोना संकट नहीं होता तो सरकार टीसीपी से बाहर निकालने के लिए पहले ही प्रयास करती। उन्होंने कहा कि आज जल शक्ति विभाग के माध्यम से पूरे राज्य में हर घर तक नल व जल देने का अभियान छेड़ा गया है। इस अभियान से गगरेट विस क्षेत्र में भी लोगों को लाभ मिल रहा है तथा ट्यूबवैल भी लगाए जा रहे हैं।

बिना लोगों को जागरूक किए लाए टीसीपी

वहीं विधायक बलबीर सिंह ने कहा कि बिना लोगों को जागरूक किए कांग्रेस ने टीसीपी को लागू किया जिससे लोगों की दिक्कतें बढ़ी। उन्होंने मांग की कि अंब व गगरेट नगर नियोजन क्षेत्र से उन पंचायतों को बाहर किया जाए, जिसका स्थानीय निवासी विरोध कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि महेंद्र सिंह ठाकुर के नेतृत्व में आज जल शक्ति विभाग बेहतर ढंग से कार्य कर रहा है।

2.51 करोड़ रुपए के ट्यूबवैल जनता को समर्पित किए

इसके उपरांत जल शक्ति मंत्री महेंद्र सिंह ठाकुर ने गगरेट विस क्षेत्र में 2.51 करोड़ रुपए की लागत से बनकर तैयार हुए 4 ट्यूबवैल जनता को समर्पित किए। इनमें 52.56 लाख से शिववाड़ी में निर्मित, 67.50 लाख रुपएके गुगलैहड़-1, 64.70 लाख की लागत से बने गुगलैहड़-2 तथा 66.87 लाख रुपए की लागत से लोहरली में बने ट्यूबवैल शामिल हैं। इस मौके पर जल शक्ति मंत्री महेन्द्र सिंह ठाकुर ने पौधारोपण भी किया।

अंबोटा में किया कोविड टीकाकरण का निरीक्षण

जल शक्ति मंत्री महेंद्र सिंह ठाकुर ने अंबोटा में चल रहे कोविड टीकाकरण सत्र का निरीक्षण भी किया। वह यहां पर कुछ देर के लिए रुके तथा यहां टीकाकरण कर रहे स्वास्थ्य कर्मियों से बातचीत भी की।

यह रहे उपस्थित

ठस अवसर पर हिमुडा उपाध्यक्ष एवं पूर्व मंत्री प्रवीण शर्मा, भाजपा मंडलाध्यक्ष सतपाल सिंह, प्रदेश भाजपा कार्यकारिणी सदस्य राममूर्ति शर्मा, महामंत्री रमेश हीर, केसीसी डायरेक्टर पवन लंबरदार, विश्वजीत पटियाल, महिला मोर्चा मंडल अध्यक्ष ममता देवी, शादीलाल गोस्वामी, उपायुक्त राघव शर्मा, टीसीपी डायरेक्टर कमल कांत सरोच, चीफ इंजीनियर जलशक्ति विभाग डॉ. शाम कुमार शर्मा, उपनिदेशक उद्यान अशोक धीमान, अधीक्षण अभियंता अरविंद सूद, अधिशाषी अभियंता अश्विनी कुमार बंसल, प्रवीण शर्मा, एचएल शर्मा, एटीपी पंकज शर्मा सहित संबंधित पंचायतों के प्रतिनिधि व अन्य गणमान्य व्यक्ति उपस्थित रहे।

-0-

Get delivered directly to your inbox.

Join 876 other subscribers

error: Content is protected !!
Hi !
You can Send your news to us by WhatsApp
Send News!