हिमाचल प्रदेश के सोलन जिले के नालागढ़ क्षेत्र के नाल भागड़ा गांव में पहले पति-पत्नी के बीच किसी बात पर झगड़ा हो गया और बाद में पिकअप में बैठाकर वाहन को जानबूझ कर खाई में गिरा दिया। इससे पत्नी की मौके पर ही मौत हो गई, जबकि व्यक्ति गंभीर रूप से घायल हो गया है। घायल को पीजीआई चंडीगढ़ रेफर कर दिया गया है। झगड़े की बात मृतक महिला ने पहले ही फोन पर अपने पिता से बता दी थी। इसके बाद पिता ने पुलिस में इसकी शिकायत की है। पुलिस ने हत्या का केस दर्ज कर छानबीन शुरू कर दी है। जोघों पुलिस चौकी के तहत नाल भागड़ा गांव निवासी सुरेंद्र सिंह का पत्नी आशा कुमारी के साथ पहले झगड़ा हुआ।

इसके बाद आशा को सुरेंद्र पिकअप में बैठाकर नालगाढ़-सवारघाट मार्ग पर ले गया। कुंडलू पंचायत के पानी मोड़ पर पिकअप को 60 फीट गहरी खाई में उतार दिया। हादसा देर रात सुनसान जगह पर हुआ, जिससे किसी को पता नहीं चला। सुबह के समय घास लेने गए ग्रामीणों ने वाहन को खाई में गिरा देखा तो इसकी सूचना पुलिस को दी। महिला की मौके पर ही मौत हो गई थी, जबकि व्यक्ति को इलाज के लिए अस्पताल पहुंचाया गया। बताया जा रहा है कि इस दंपती के दो बच्चे हैं। डीएसपी नवदीप सिंह ने बताया कि पुलिस ने महिला के पिता रघुबीर सिंह के बयान पर सुरेंद्र सिंह के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज कर छानबीन शुरू कर दी है। महिला के शव का नालागढ़ अस्पताल में पोस्टमार्टम करवाया जा रहा है। पोस्टमार्टम के बाद शव अंतिम संस्कार के लिए सौंप दिया जाएगा।

error: Content is protected !!