मध्य प्रदेश में 17 दिन के अंदर पत्नी के हाथ काटने का हैवानियत का तीसरा मामला सामने आया है। इस बार यह करतूत बैतूल के चिचोली में पति ने की है। उसने अपनी सो रही पत्नी पर कुल्हाड़ी से ताबड़तोड़ हमला कर दिया। पत्नी का एक हाथ और दूसरी हाथ की तीन अंगुलियोंं को काट कर अलग कर दिया, दो उंगलियां भी जख्मी कर दीं। कुल्हाड़ी का एक वार पत्नी के चेहरे पर होने से पत्नी को हालत गंभीर है। उसे गुरुवार देर रात पत्नी को हमीदिया अस्पताल लाया गया। यहां डॉक्टरों की टीम ने ऑपरेशन करके कटा हाथ जोड़ा है। डॉक्टर्स का कहना है कि एक हाथ की तीन उंगलियों के काम करने की उम्मीद कम है। दो उंगलियां ठीक से जुड़ी हैं, वे काम करेंगी। ऐसी घटनाओं को CM शिवराज सिंह चौहान ने गंभीरता से लेते हुए सख्त कानून बनाने की बात कही है। उन्होंने डीजीपी को सख्ती बरतने के निर्देश भी दिए हैं। उन्होंने ऐसे मामलों को फास्ट ट्रैक कोर्ट में ले जाने के लिए भी कहा है।

चिचोली के सोनी मोहल्ला के तिलक वार्ड में रहने वाले राजू बंशकार का पत्नी कविता से छोटी-छोटी बातों पर विवाद होते रहता था। बुधवार रात एक बार फिर दोनों में विवाद हुआ था। गुरुवार सुबह 5.30 बजे जैसे ही राजू बिस्तर से उठा, उसने पास पड़ी कुल्हाड़ी उठाई और सो रही पत्नी पर हमला कर दिया। दोनों हाथों पर हमले के बाद उसने पत्नी के चेहरे पर भी वार किया। हमले में कविता का एक हाथ पूरी तरह से कट गया, जबकि दूसरे हाथ की अंगुलियां कटीं। सूचना मिलने पर पुलिस मौके पर पहुंची। पुलिस ने गंभीर हालत में कविता को चिचोली के सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पहुंचाया। जहां से उसे जिला अस्पताल भेजा गया। जिला अस्पताल से उसे भोपाल रेफर कर दिया था।

बाद में रोते हुए पति बोला- मैंने यह क्या कर दिया
आरोपी पति राजू बंशकार मजदूरी और शादियों में बाजा बजाने का काम करता है। पड़ोसियों के मुताबिक राजू घटना के बाद घर से नहीं भागा। वह पछता रहा था और रोते हुए बार-बार कह रहा था कि मैंने ये क्या कर डाला।अजय सोनी ने बताया कुछ दिनों से उसका मानसिक संतुलन बिगड़ा हुआ था। पति और पत्नी के बीच छोटी-छोटी बातों पर लड़ाई होती थी। इसी विवाद में उसने पत्नी पर हमला किया। आरोपी पर केस दर्ज कर गिरफ्तार कर लिया गया है। चिचोली में हुई हृदय विदारक घटना के समय राजू की 17 साल की बेटी घर में ही सो रही थी। राजू का एक 20 साल का बेटा पांढुर्णा में काम करता है।

डॉक्टर ने कहा- एक हाथ की दो उंगलियां जोड़ दी हैं। हमीदिया अस्पताल के डॉक्टर आनंद गौतम का कहना है कि ऑपरेशन तो रात को ही हो गया था। एक हाथ की तीन उंगलियों के चलने की उम्मीद नहीं है। दो को ठीक किया गया है। उम्मीद है कि वे काम करेंगी।

पहले भोपाल और सागर में हो चुकी हैं ऐसी वारदात
घटना 1- 9 मार्च की रात भोपाल के निशातपुरा में चरित्र शंका में प्रीतम सिंह सिसाेदिया ने फरसे से पत्नी संगीता के बाएं हाथ की हथेली और बाएं पैर का पंजा काट दिया था। हमीदिया अस्पताल के डॉक्टरों ने 3 घंटे ऑपरेशन के बाद हथेली को तो री-इंप्लांट कर दिया। महिला घर पर है, अभी पूरी तरह से स्वस्थ नहीं हो पाई है।

घटना 2- 22 मार्च को सागर जिले में चरित्र शंका में ऐसी वारदात पति ने की। यहां रणधीर ने पत्नी आरती को जंगल में ले जाकर दोनों हाथ कुल्हाड़ी से काट दिए थे। आरती के दोनों हाथ हमीदिया अस्पताल में 9 घंटे ऑपरेशन के बाद जोड़े गए। अभी वह अस्पताल में भर्ती है। दोनों की लव मैरिज थी।

मुख्यमंत्री बोले- गंभीर व दुर्भाग्यपूर्ण हैं ऐसी घटनाएं, रोकने के लिए सख्त कानून बनाएंगे
मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने शुक्रवार को कहा कि पति का पत्नी के हाथ काटना बहुत ही गंभीर व दुर्भाग्यपूर्ण हैं। ऐसी घटनाएं रोकने सख्त कानून बनाएंगे। उन्होंने डीजीपी विवेक जौहरी को निर्देश दिए हैं कि ऐसी घटनाओं को गंभीरता से लेते हुए आरोपियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई सुनिश्चित की जाए। उन्होंने कहा, ऐसे मामलों को फास्ट ट्रैक कोर्ट में ले जाकर पीड़िताओं को जल्दी से जल्दी न्याय दिलाया जाएगा।

error: Content is protected !!