दो दिवसीय दौरे पर गृह जिला मंडी पहुंचे सीएम जयराम ठाकुर ने कोरोना की समीक्षा बैठक की अध्यक्षता करते हुए कहा कि हिमाचल में पाबंदियों की वजह से संक्रमण की रफ्तार थमी है। इसके बावजूद लोगों को सचेत रहने की जरूरत है। तीन माह पहले ऐसा दौर भी आया था कि सूबे में कोरोना संक्रमण के मामले बेहद कम रह गए। लेकिन लापरवाही के चलते फिर संक्रमण के मामले बढ़ गए। इस तरह की गलती दोबारा नहीं दोहराई जानी चाहिए। 

उन्होंने कहा कि कोरोना वैक्सीन को लेकर हिमाचल में ड्राई रन यानी मॉकड्रिल शुरू हो गई है। जनवरी अंत तक हिमाचल को कोरोना वैक्सीन मिलने की उम्मीद है। वैक्सीन को लेकर प्रोटोकाल तैयार कर लिया गया है। ट्रांसपोटेशन समेत अन्य चीजों की तैयारियां चल रही हैं।

बढ़ते कोरोना संक्रमण के मामलों को देखते हुए मजबूरन कुछ पाबंदियां और सख्त कदम उठाने पड़े, जिसकी बदौलत कोरोना कमजोर पड़ा है। इस मौके पर डीसी मंडी ऋग्वेद ठाकुर,  एसपी शालिनी अग्निहोत्री, सीएमओ डॉ. देवेंद्र शर्मा के अलावा बल्ह के विधायक इंद्र सिंह गांधी, भाजपा जिला अध्यक्ष रणबीर सिंह, नगर परिषद अध्यक्ष सुमन ठाकुर आदि मौजूद रहे।

हेलीपोर्ट और संस्कृति सदन का किया निरीक्षण
बैठक से पूर्व सीएम ने संस्कृति सदन व हेलीपोर्ट के निर्माण कार्य का जायजा लिया। उन्होंने कहा कि संस्कृति सदन को चार माह के भीतर पूरी तरह से तैयार करने के निर्देश दिए गए हैं। उन्होंने कांग्रेस पर निशाना साधते हुए कहा कि पूर्व सरकार ने मात्र संस्कृति सदन के लिए पत्थर रखने का काम किया था जबकि इसके लिए बजट तक का प्रावधान नहीं था। उन्होंने कहा कि संस्कृति सदन के निर्माण में भाजपा सरकार का मुख्य योगदान रहा है। इसके निर्माण से लोगों को कई तरह की सुविधाएं मिलेंगी।

By

error: Content is protected !!