क्या है पेगासस स्पाईवेयर, कैसे करें अपने मोबाइल का बचाव

Read Time:2 Minute, 45 Second

Pegasus spyware इन दिनों एक बार फिर पूरे देश में चर्चा का विषय बना हुआ है. इससे पहले साल 2019 में इसके बारे में सुना गया था, तब कई व्हाट्सऐप यूजर्स ने पेगासस द्वारा उनके फोन के हैक होने की शिकायत की थी. इनमें कई एक्टिविस्ट और पत्रकार शामिल थे. अक्सर रिपोर्ट में ये सामने आता है कि लोगों के फोन हैक हो रहे हैं, लेकिन लोग ये नहीं जानते हैं कि कैसे है होते हैं और इनसे बचने का क्या तरीका है.

इस ग्रुप ने किया है तैयार
Pegasus एक spyware जिसे इजराइली ग्रुप NSO ने तैयार किया है. साल 2016 में ये सुर्खियों में आया था, जब एक अरब एक्टिविस्ट के पास संदेहभरा मैसेज आया था. पहले ये माना जा रहा था कि Pegasus सिर्फ आईफोन यूजर्स को ही अपना निशाना बनाता है लेकिन रिसर्च में खुलासा हुआ कि ये सिर्फ आईफोन यूजर्स को ही नहीं बल्कि एंड्रॉयड यूजर्स को भी अपना शिकार बनाता है.

कैसे आपके फोन को करता है प्रभावित
Pegasus आपके फोन को हैक करके आपके व्हाट्सऐप की एंड-टू-एंड इंक्रिप्टेड चैट्स को एक्सेस कर सकता है. साथ ही आपके मैसेज और कॉल्स को भी ट्रैक कर सकता है. इसके अलावा ये आपकी ऐप की एक्टीविटी को भी ट्रैक कर सकता है. यही नहीं ये आपकी लोकेशन, डेटा और वीडियो कैमरे में भी सेंध लगा सकता है.

ऐसे Pegasus spyware करें बचाव
अगर आप इस स्पाईवेयर से बचना चाहते हैं तो आपको कई बातों का ध्यान रखना होगा. कई कंपनियां अपने ऐप्स के लिए हाई लेवल सिक्योरिटी देती हैं और समय-समय पर उन्हें अपडेट भी करती रहती हैं ऐसे में आपको उन ऐप्स का अपडेटेड वर्जन की यूज करना चाहिए, इससे आपके फोन हैक होने के चांस थोड़े कम हो जाते हैं. थोड़े-थोड़े दिनों में अपने सोशल मीडिया अकाउंट्स की सिक्योरिटी को चेक करते रहना चाहिए. अगर आपके पास किसी भी तरीके से कोई लिंक आता है जिसपर आपको शक हो तो ऐसे लिंक को फोन में से फौरन डिलीट कर देना चाहिए. भूलकर भी इस पर क्लिक नहीं करना चाहिए.

error: Content is protected !!
Hi !
You can Send your news to us by WhatsApp
Send News!