शिमला हॉन्टेड प्लेस; क्या आप जानते है शिमला में कहाँ कहाँ है प्रसिद्ध भुतहा जगहें

Read Time:3 Minute, 52 Second

शिमला की खूबसूरती बहुत ही अनोखी है। यहां काफी कुछ देखने और घूमने के लिए हैं। यहां की वादियों में कई सारी कहानियां अलग-अलग रूप में मौजूद हैं। शिमला में खूबसूरती के साथ-साथ यहां कई सारे किस्से भी मौजूद हैं। लेकिन, क्या आप शिमला की कुछ भुतहा जगहों के बारे में जानते हैं? शिमला में मौजूद कुछ ऐसी जगहें हैं जहां रात में तो छोड़िए कई लोग दिन में भी जाने से डरते हैं। यहां तो बाकायदा स्थानीय लोग भी इन कुछ जगहों को हॉरर प्लेसेस के तौर पर मानते हैं।

अगर आप शिमला घूमने का प्लान बना रहे हैं, तो यक़ीनन यहां घूमने का रुख कर सकते हैं। अगर आपने शिमला में मौजूद हॉरर टूरिस्ट स्पॉट के बारे में नहीं सुना है तो चलिए बताते हैं आपको इन जगहों के बारे में।

शिमला टनल 33

शिमला से चर्चित हॉरर प्लेसेस में सबसे ऊपर शिमला टनल 33 का आता है। इस टनल की कहानी एक ब्रिटिश इंजिनियर बारोग से जुड़ी है। इस टनल को बनाने की जिम्मेदारी बारोग/बड़ोग को दी गई थी लेकिन, किसी कारण टनल नहीं बन सका। इसके चलते बारोग को अपमानित और दंडित भी किया गया था। इस घटना के बाद बारोग ने इसी टनल में आत्महत्या कर ली थी। कहा जाता है कि तब से इस टनल में बारोग की आत्मा भटकती रहती है।

दुखानी का घर

दुखानी का घर शिमला की सुंदर पहाड़ियों में मौजूद एक प्राचीन घर है। स्थानीय लोगों का माने तो यहां एक वृद्ध इंसान की आत्मा का प्रकोप है। उनका कहना है कि ब्रिटिश शासन के दौरान उस वृद्ध इंसान ने दुखी के कारण इसी घर में गोली मार ली थी। उसके बाद से दुखानी के घर में उस इंसान की आत्मा भटकती है। आपको बता दें कि दुखनी का घर अब भी वीरान है, जहां बहुत कम लोग ही घूमने के लिए जाते हैं।

चार्लेविले हवेली

वैसे तो शिमला में एक से एक प्राचीन हवेली है लेकिन, सबसे प्राचीन हवेली चार्लेविले हवेली को माना जाता है। उस समय इस हवेली के पास एक आर्मी अफसर का परिवार भी रहता था और दोनों परिवारों का मानना था कि यहां किसी अदृश्य साये का निवास था, जो दिखता और कुछ ही देर में गायब भी हो जाता था। इसके अलावा घर की चीजें के टूटने और गिरने की आवाजें बार-बार सुनाई देती थी। वहीं स्थानीय लोग इस घटना जो सत्य मानते हैं और शाम के बाद यहां जाना ठीक नहीं समझते हैं।

इंदिरा गांधी मेडिकल कॉलेज

हिमाचल प्रदेश के साथ-साथ शिमला के मौजूद इंदिरा गांधी मेडिकल कॉलेज सबसे बड़ा चिकित्सालय माना जाता है। यहां के कई मरीजों और कर्मचारियों को अजीबो-गरीब घटनाओं की शिकायत की है। उनका मानना था कि यहां की लिफ्ट और गलियारों आदि जगहों पर अनहोनियां घटती हैं। कई लोगों का ये भी कहना है कि जान देने वाले मरीजों और लोगों की आत्माएं आज भी भटकती हैं।

error: Content is protected !!
Hi !
You can Send your news to us by WhatsApp
Send News!