मांगे मनवाने के लिए सड़कों पर उतरे बागवान, सचिवालय के बार पुलिस तैनात

0
81

शिमला। राजधानी शिमला में बागवानों (Apple growers) का प्रदर्शन जारी है। संयुक्त किसान मंच के बैनर तले प्रदेश के 27 किसान-बागवान संगठन राजधानी में नवबहार चौक से छोटा शिमला तक रैली निकालकर अपना रोष जाहिर कर रहे हैं।

सेब बागवान महंगे कार्टनों पर अपनी नाराजगीजाहिर कर रहे हैं। वहीं पुलिस (Police) ने प्रदर्शनकारियों को रोकने लिए पूरे प्रबंध कर रखे हैं। सचिवालय के बाहर भारी संख्या में पुलिस बल तैनात है। छोटा शिमला (Chhota Shimla) में बैरिकेडिंग कर सर्कुलर रोड को बंद कर दिया गया है। वहीं पुलिस बल और अग्निशमन के फायर टेंडर को तैनात कर दिया गया है। इन्हें सचिवालय के दोनों गेटों पर तैनात किया गया है। वहीं सजौली की ओर गेट के पास भी पुलिस तैनात कर दी गई है।

बागवान अपनी कुछ मांगों को मनवाने के लिए प्रदर्शन कर रहे हैं। बागवानों ने मंडियों में एपीएमसी कानून को लागू करने, खाद, बीज, कीटनाशकों पर सब्सिडी देने, फलों की पैकेजिंग पर जीएसटी (GST) को खत्म करने की मांग कर रहे हैं। इसी के साथ छह फीसदी जीएसटी की जटिल प्रक्रिया को आसान करने की मांग भी उठाई जा रही है। 20 सूत्रीय मांगपत्र में कुछ मुद्दे उठाए गए थे। इसके लिए मुख्य सचिव की अध्यक्षता में एक कमेटी भी बनाई गई थी मगर उसमें बागवान प्रतिनिधियों को शामिल नहीं किया गया था।

इस बात को लेकर भी बागवान खफा हैं। वहीं बागवान बैरियरों पर मार्केट फीस (market fee) वसूली को भी बंद करने की मांग उठा रहे हैं। इसी के साथ कृषि बागवानी सहयोगी उपकरणों पर सब्सिडी देने, प्राकृतिक आपदाओं के दौरान होने वाले नुकसान का मुआवजा देने, कर्ज माफ करने, बोर्ड का गठन करने और सभी फसलों के लिए एमएसपी तय करने की भी मांग उठा रहे हैं।

Leave a Reply