घोषणा पत्र जारी होने से पहले कांग्रेस पार्टी कर रही वादों पर वादे, जाने आज क्या घोषणा की

0
23

शिमला. हिमाचल प्रदेश में विधानसभा चुनावों में घोषणा पत्र तैयार होने के पहले ही कांग्रेस पार्टी वादे पर वादे कर रही है. कांग्रेस पुरानी पेंशन बहाली, 18 से 60 साल की महिलाओं को हर माह 1500 रुपये देने समेत अन्य कई घोषणाएं कर चुकी है.

अब कांग्रेस ने ऐलान किया कि सरकार बनने के बाद किसान-बागवान आयोग का गठन किया जाएगा. कांग्रेस प्रचार समिति के अध्यक्ष सुखविंद्र सिंह सुक्खू ने राजधानी शिमला में प्रेस कॉन्फ्रेंस कर ये ऐलान किया. उन्होंने आउटसोर्स कर्मचारियों के लिए स्थायी नीति बनाने, पुलिस भर्ती पेपर लीक मामले की भी नए सिरे से एसआईटी गठित कर जांच करवाने की बात कही.

सुखविंद्र सिंह सुक्खू ने कहा है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पांच साल पहले वादा किया था कि किसानों की आय 2022 तक दोगुनी कर दी जाएगी, लेकिन वह बातें जुमला साबित हुईं. किसानों की आय दोगुना तो दूर की बात है किसानों-बागवानों को सड़कों पर उतरने के लिए मजबूर होना पड़ रहा है. सुक्खू सेब बागवानी की बढ़ती लागत के साथ साथ पैकेजिंग मैटेरियल समेत अन्य चीजों के दाम बढ़ने से परेशान हैं.

उन्होंने कहा कि पीएम नरेंद्र मोदी ने मंडी में एक रैली में कहा था कि सेब आयात शुल्क 100 फीसदी किया जाएगा, ताकि विदेश से सस्ता सेब देश में न आए, लेकिन आज तक इस दिशा में कोई कदम नहीं उठाए गए. उन्होंने कहा कि यह आनंद शर्मा ही थे जिन्होंने वाणिज्य मंत्री रहते हुए सेब पर 50 फीसदी आयात शुल्क लगाया था. मोदी सरकार ने इस पर कुछ नहीं किया.

सुखविंदर सिंह सुक्खू ने मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर पर हमला करते हुए कहा कि जयराम ठाकुर किसानों और बागवानों को हितैषी होने का ढोंग रच रहे हैं. वे नाममात्र के मुख्यमंत्री हैं. साथ ही कहा कि जुमलों और झूठे वादों से सत्ता नहीं मिलती. ऐसे में वे दोबारा सत्ता में आने का सपना छोड़ दें. उन्होंने कहा कि जय राम सरकार में प्रदेश का हर वर्ग दुखी और त्रस्त है.

Leave a Reply