हिमाचल बिजली बोर्ड कर्मियों की सरकार को चेतावनी, यह मांगे पूरी नही हुई तो होगा धरना प्रदर्शन

0
36

शिमला। राज्य बिजली बोर्ड कर्मचारी यूनियन के प्रदेश अध्यक्ष कुलदीप खरवाड़ा ने बोर्ड प्रबंधन वर्ग पर यूनियन के साथ मानी हुई मांगों को लागू करने में की जा रही देरी पर चिंता जताई।

उन्होंने कहा प्रबंधन वर्ग को इन मांगों को लागू करने के लिए बहुत समय दे दिया है। इस देरी के कारण कर्मचारियों में पनप रहे आक्रोश के मद्देनजर यूनियन स्थगित किए आंदोलन को दोबारा शुरू करेगी। यहां जारी बयान में कुलदीप खरवाड़ा ने कहा प्रबंधन वर्ग ने मांगों को लागू करने के लिए दो बार समय मांगा था।

यूनियन ने इससे भी ज्यादा समय दिया, लेकिन प्रबंधन वर्ग इन्हें लागू करने में विफल रहा है। आठ जुलाई की बैठक में जूनियर टीमेट व जूनियर हेल्पर का पदनाम टीमेट व हेल्पर करने की एक प्रमुख मांग उठाई थी, जिससे बोर्ड को कोई अतिरिक्त वित्तीय बोझ भी नहीं पड़ेगा। इसे लागू करने में भी देर की जा रही है।

प्रबंधन वर्ग के आश्वासन पर यूनियन ने 18 जुलाई से बोर्ड मुख्यालय शिमला में प्रदर्शन को स्थगित किया था। यूनियन अब तीन अगस्त से प्रदर्शन करेगी। पहले दिन नादौन इकाई के कर्मचारी बैठेंगे। उन्होंने प्रबंधन वर्ग से आग्रह किया है कि टीमेट व हेल्पर पदनाम के अलावा जूनियर आफिस असिस्टेंट (आइटी) व अकाउंट्स के पदोन्नति अधिनियम बनाने के आदेश शीघ्र जारी किए जाएं।

Leave a Reply