मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर ने बैजनाथ में दी 240 करोड़ की सौगातें, जाने क्या क्या दिया

0
39

मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने हिमाचल प्रदेश के कांगड़ा जिले के बैजनाथ को 22 करोड़ से निगम की कार्यशाला में निर्माणाधीन नए बस अड्डे और 68 करोड़ की बैजनाथ पपरोला नगर पंचायत के लिए सीवरेज योजना तथा 48 करोड़ की पेयजल योजना की बड़ी सौगात दी है।

इसके अतिरिक्त 13 करोड़ से निर्माणाधीन कांगड़ा और चंबा को जोड़ने वाले होली उतराला मार्ग का शिलान्यास किया। सीएम ने इंदिरा गांधी स्टेडियम से 240 करोड़ रुपये की पांच विकास योजनाओं के उद्घाटन और 15 विकास कार्यों के शिलान्यास भी किए।सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग की सुकन्या लाभार्थी योजना के राज्य स्तरीय कार्यक्रम के अवसर पर मुख्यमंत्री ने कहा कि महिलाओं के सशक्तीकरण के लिए भाजपा सरकार ने अनेक योजनाएं शुरू की हैं। शगुन योजना में अब तक 6626 बेटियों को लाभ पहुंचा है और उस पर 17 करोड़ रुपये खर्च हुए हैं। उन्होंने कहा कि होली-उतराला मार्ग के लिए 13 करोड़ की राशि जारी हुई है और आगे के रास्ते के निर्माण के लिए प्रक्रिया जारी है।

सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग की सुकन्या लाभार्थी योजना के राज्य स्तरीय कार्यक्रम के अवसर पर मुख्यमंत्री ने कहा कि महिलाओं के सशक्तीकरण के लिए भाजपा सरकार ने अनेक योजनाएं शुरू की हैं। शगुन योजना में अब तक 6626 बेटियों को लाभ पहुंचा है और उस पर 17 करोड़ रुपये खर्च हुए हैं। उन्होंने कहा कि होली-उतराला मार्ग के लिए 13 करोड़ की राशि जारी हुई है और आगे के रास्ते के निर्माण के लिए प्रक्रिया जारी है।

मुल्थान में 10 करोड़ से कंबाइड कार्यालय, बरोट में नौ करोड़ से आईटीआई भवन, छह करोड़ से विद्युत बोर्ड के तहत कार्य, छह करोड़ की धानग पेयजल योजना, तीन करोड़ से टिकरी पेयजल योजना, छह करोड़ से ओवरहेड ब्रिज निर्माण का कार्य जारी है।इस मौके पर विपिन सिंह परमार, सरवीण चौधरी, विधायक मुल्ख राज प्रेमी, विधायक रविंद्र सिंह, विधायक प्रकाश राणा, त्रिलोक कपूर, घनश्याम शर्मा, नजीम, रूपाली, जरियाल और विभिन्न विभागों के अधिकारी उपस्थित थे।

चार स्कूल होंगे अपग्रेड, खीर गंगाघाट में लगेगी लिफ्ट
चार स्कूलों धानग, पंचाला, लोट और जंडपुर को अपग्रेड करने, खीर गंगा घाट में लिफ्ट स्थापित करने और सीतारमनी को विकसित करने का एस्टिमेट बनाने के निर्देश दिए। लंबागांव की तीन पंचायतों को बैजनाथ विकास खंड में शामिल करने, महेशगढ़ को जाने वाले रास्ते का नाम शहीद राकेश सिंह के नाम पर करने और रास्ते को पक्का करने तथा चौगान में पटवार कार्यालय खोलने के आदेश दिए।

Leave a Reply