सड़क चौड़ी करने के काम में लेटलतीफी पड़ी भारी, टेंडर रद्द और लगाया तीन करोड़ का जुर्माना

0
34

हिमाचल प्रदेश के चंबा में सड़क को चौड़ा करने में लेटलतीफी एक कंपनी पर भारी पड़ी है। लोक निर्माण विभाग ने टेंडर रद्द कर कंपनी पर तीन करोड़ रुपये जुर्माना लगाया है।

चंबा से खज्जियार तक 19 किलोमीटर सड़क को चौड़ा करने के लिए दो साल का समय दिया गया था। लेकिन कंपनी इस समयावधि में महज 55 फीसदी काम ही पूरा कर पाई। अब इस काम को पूरा करने के लिए विभाग दोबारा टेंडर आमंत्रित करेगा। आरोप है कि वालिया कंस्ट्रक्शन कंपनी मनमर्जी से काम कर रही थी। विभाग ने नोटिस भी दिए लेकिन कोई असर नहीं हुआ।

अब इस कंपनी को ब्लैक लिस्ट करने के लिए विभाग ने उच्च अधिकारियों को सिफारिश पत्र भी भेज दिया है। वर्ष 2019 में कंपनी को कार्य आवंटित किया गया था। डेढ़ साल में भी जब कंपनी ने अपनी प्रोग्रेस नहीं दी तो विभाग ने नोटिस देकर कार्य को तीव्र गति देने के आदेश दिए। लेकिन इसका कुछ भी असर नहीं हुआ। लोक निर्माण विभाग के अधिशासी अभियंता जीत सिंह ठाकुर ने बताया कि लेटलतीफी करने वाले ठेकेदारों पर शिकंजा कसा जा रहा है। इसके तहत चंबा-खज्जियार मार्ग को चौड़ा करने वाली कंपनी पर तीन करोड़ रुपये का जुर्माना लगाया गया है। विकास कार्यों में लेटलतीफी करने वालों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी।

पहले भी जुर्माना लगा चुका है विभाग
लोक निर्माण विभाग चंबा पहले भी चार सड़कों के निर्माण कार्य में देरी करने वाले ठेकेदारों पर तीन करोड़ रुपये का जुुर्माना लगाकर टेंडर रद्द कर चुका है। इन सड़कों के कार्य अब दूसरे ठेकेदार कर रहे हैं। इनमें साच-फतेहपुर, घरग्रां, भानिया और सनोथा सड़कें शामिल हैं।

Leave a Reply