Treading News

नारी है तरक्क़ी का आधार, इसके प्रति बदलो अपने विचार

बिलासपुर। बाल विकास परियोजना बिलासपुर सदर द्वारा कोल वैली नर्सिंग संस्थान हरनोड़ा में विश्व माहवारी स्वचछता दिवस पर एक दिवसीय जागरूकता शिविर का आयोजन किया गया। कार्यक्रम में बाल विकास परियोजना अधिकारी नरिंदर कुमार ने बतौर मुख्यातिथि शिरकत की। इस अवसर पर उन्होंने विभाग की ‘‘वो दिन’’ योजना के बारे में जानकारी दी। नर्सिंग कॉलेज की छात्राओं ने पोस्टर मेकिंग के जरिये बताया स्वचछता का महत्व।

इस अवसर पर इस दुर्वासा पर प्रकाश डालते हुए कोल वैली नर्सिंग संस्थान की  प्रिंसिपल नम्रता नेगी ने बताया कि विश्व मासिक धर्म स्वच्छता दिवस का उदेश्य जागरूकता फैलाना है। उन्होंने कहा कि माहवारी के दिनों में साफ सफाई न रखने से कई तरह के संक्रमण का खतरा बढ़ जाता है, माहवारी के दौरान स्वचछता का ध्यान न रखने से क्या समस्यायें हो सकती है और इन दिनों में स्वच्छता बनाये रखने के लिए किन बातों का ध्यान रखना चाहिए बहुत जरूरी है। अधिकतर महिलाएं इस विषय पर खुल कर बात करने से संकोच करती हैं। छोटे गांवों में माहवारी स्वच्छता को लेकर आज भी महिलाओं में जानकारी और जागरूकता की कमी है। इस दिवस को मनाने का उद्धेश्य यही है कि माहवारी के दौरान स्वच्छता का ध्यान न रखने से क्या क्या समस्याएं हो सकती है।

आँचल सीएचओ चम्योण ने बताया कि प्रत्येक चार घंटे में पैड बदलें स्वच्छता बनाये रखने और रैशेस की रोकथाम के लिए बहुत जरूरी है भले ही रकत प्रवाह बहुत अधिक न हो लेकिन एक सैनिटरी पैड का उपयोग किसी भी स्थिति में 8 घंटे से अधिक नहीं करना चाहिए। व्यक्तिगत सफाई,सैनिटरी पैड निस्तारण आदि महत्वपूर्ण कार्य हैं। डॉक्टर मीनाक्षी ने इस दिवस के महत्वता पर जागरूक किया।

इस दौरान कोल वैली नर्सिंग संस्थान की छात्राओं ने विश्व माहवारी दिवस जागरूकता को लेकर सुंदर पोस्टर बनाकर, गीतों के माध्यम से, लघु नाटिका से व प्रश्नोतरी के माध्यम से जागरूकता का संदेश दिया। उपस्थित बेटियों को सेनेटरी पैड बांटे गए।
इस कार्यक्रम में पर्यवेक्षिका हरनोड़ा,स्वास्थ्य कार्यकर्ता सोनिका देवी, कोल वैली नर्सिंग संस्थान के समस्त अध्यापकगण व आंगनवाड़ी कार्यकरताओं ने भाग लिया