पालमपुर: जब वन्य प्राणी बन गया दो घण्टे के लिए, स्थानीय युवक तुषार का मेहमान

फारेस्ट वीट खैरा पालमपुर के अंतर्गत दो दिन पहले शाम 5 बजे एक जंगली जानवर का बच्चा पास के जंगल से चलकर वाहे दा पट्ट के कन्यारखड़ में लोगों के पास पहुंच गया। वहां पर अवारा कुत्तों ने उस पर हमला बोल दिया। जिसकी चीख सुन कर युवक तुषार दौड़ा व कुत्तों के चंगुल से किसी तरह बचाया व वेजुबान नन्हे जानवर को अपने घर ले आया व कमरे में रख लिया। उसकी माता व अन्य सदस्यों ने उसकी टहल की व दूध आदि पीलाया व इसकी जानकारी आसपड़ोस में दी तथा इसकी सूचना खैरा वीट के प्रभारी राकेश पठानिया को दी।

फारेस्ट गॉर्ड ने अपने सहयोगी टिक्कर द्रमन वीट के प्रभारी प्रदीप राणा के साथ तुरंत मौके पहुंच कर वन्य प्राणी को रात को ही अपने पास रेस्क्यू कर उचित व्यवस्था कर दी। राकेश पठानिया ने बताया कि सांभर का बच्चा करीब 15, 20 दिन का है तथा इसे विभाग ने अपने कब्जे में ले लिया है व सुरक्षित स्थल पर छोड़ दिया जाएगा।

Please Share this news:
error: Content is protected !!